40 दिनों में युवाओं को डॉक्टर, इंजीनियर, अकाउंटेंट बनाने वाला गिरोह चढ़ा पुलिस के हत्थे

107

नई दिल्ली। देश में एक तरफ ऐसे युवा हैं, जो दिन रात स्टडी करके डॉक्टर, इंजीनियर, अकाउंटेंट बनते हैं। वहीं दूसरी तरफ ऐसे भी लोग हैं, जो बिना पढ़ाई करें ही तीस से चालीस दिनों में ही एमबीए, बीटेक, एमटेक, डॉक्टर, अकाउंटेंट की डिग्री पा रहे हैं। ऐसा ही ही एक बड़ा गिरोह पुलिस के हत्थे चढ़ा है, जो युवकों से मोटी रकम लेकर उन्हें देश के बड़े से बड़े विश्वविद्यालयों की फर्जी डिग्रियां देता था। ये गिरोह सिर्फ एक से सवा महीने के अंदर ही युवकों को डॉक्टर, इंजीनियर बना देता था। इसका नेटवर्क पूरे देश में फैला हुआ था।

इसे भी पढ़ें: हादसे का शिकार हुआ प्रियंका गांधी का काफिला, नवरीत के परिवार से मिलने जा रही थीं रामपुर

ये गिरोह 16 सरकारी और प्राइवेट यूनिवर्सिटी की फर्जी डिग्रियां बनाकर बेचता था। इनके पास पुलिस को भारी मात्रा में मुहर, होलोग्राम, कंप्यूटर, जाली पेपर्स और अन्य उपकरण मिले हैं। पुलिस की गिरफ्त में इस गिरोह के पांच सदस्य आए हैं। खबरों के अनुसार, जीरकपुर थाना पुलिस जीरकपुर-कालका रोड पर रोटिन गश्त कर रही थी। इस दौरान ही पुलिस को उसकी सूत्रों से जानकारी मिली कि, एक गिरोह के सदस्य युवकों से उनके डॉक्युमेंट्स लेकर उन्हें फर्जी डिग्री और सर्टिफिकेट बनाकर दे रहे हैं।

इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने सबसे पहले निर्मल सिंह निम्मा को गिरफ्तार किया है, जो करतारपुर थाना मुल्लांपुर गरीबदास रहने वाला है। पुलिस के लिए अब गिरोह के अन्य सदस्यों तक पहुंचना आसान हो गया था। इसके एक-एक पुलिस चार और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इसमें से एक का नाम विष्णु शर्मा निवासी निधि हाई कॉलोनी मथुरा (यूपी), आनंद विक्रम सिंह निवासी सेक्टर-2, वैशाली गाजियाबाद (यूपी), सुशांत त्यागी, संचालक वीर फाउंडेशन डिस्टेंस एजुकेशन मेरठ (यूपी) और अंकित अरोड़ा को गिरफ्तार किया जो फतेहपुर का रहने वाला है।

मोहाली में एसएसपी कार्यालय में हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में एसपी देहात डॉ. रवजोत कौर ग्रेवाल और डीएसपी जीरकपुर अमरोज सिंह ने बताया कि, फर्जी डिग्री बनाने वाले गिरोह के सदस्यों को उनकी टीम ने गिरफ्तार किया है। जिनके खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य कई गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। पूछताछ जारी है, उम्मीद है कि, कई बड़े खुलासे हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: सरकारी बजट ने बिगाड़ा आम आदमी का बजट, LPG सिलेंडर के दामों हुई बढ़ोत्तरी