राजद्रोह केस: कन्हैया कुमार समेत 10 पर कसा शिकंजा, कोर्ट ने 15 मार्च को किया तलब

68
kanhaiya kumar

नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय कैंपस में साल 2016 में कन्हैया कुमार के नेतृत्व में लगाए गए देश विरोधी नारे को लेकर अब कन्हैया कुमार पर शिकंजा कसता नजर आ रहा है। दिल्ली की पटियाला कोर्ट ने जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार समेत 10 लोगों के खिलाफ दाखिल चार्जशीट को संज्ञान लेते हुए सभी को 15 मार्च 2021 को कोर्ट में पेश होने को कहा है।

इसे भी पढ़ें:-कन्हैया कुमार ने बंकर को एंकर से जोड़ा तो अशोक पंडित ने दिया जोरदार जवाब

उल्लेखनीय है कि नौ फरवरी साल 2016 में संसद हमले के आरोपी अफजल गुरु की बरसी पर जेएनयू कैंपस में देश विरोधी नारे लगाए गए थे, जिसका नेतृत्व तत्कालीन जेएनयू अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने किया था। इस मामले में दिल्ली पुलिस को पिछले साल 27 फरवरी 2020 को चार्जशीट दाखिल करने की इजाजत मिली थी। अब चार्जशीट को संज्ञान लेते हुए दिल्ली की पटियाला कोर्ट ने चार्जशीट में आरोपी बनाये गए कन्हैया कुमार समेत 10 लोगों को 15 मार्च को कोर्ट में तलब किया है।

जेएनयू कैंपस में लगे थे देश विरोधी नारे

दिल्ली पुलिस चार्जशीट में कन्हैया कुमार के अलावा उमर खालिद, अनिर्बान भट्टाचार्य, अकीब हुसैन, मुजीब हुसैन गट्टू, मुनीब हुसैन गट्टू, उमर गुल, रईस रसूल, बशारत अली और खालिद बशीर भट्ट पर आईपीसी की धारा 124A, 323, 465, 471, 143, 149, 147, 120B के तहत चार्जशीट दायर किया गया है। बता दें कि आतंकवादी अफजल गुरु की बरसी पर दिल्ली के जेएनयू परिसर में नौ फरवरी साल 2019 में देश विरोधी नारे लगाए गए थे, जिसका एक वीडियो भी सामने आया था। इस मामले में जवाहर लाल विश्वविद्यालय के तत्कालीन अध्यक्ष कन्हैया कुमार को मुख्य आरोपी बनाया गया है।

दिल्ली पुलिस का दावा था कि पुलिस के पास ऐसे कई तथ्य और सबूत हैं जो ये साबित करते हैं की वह देशद्रोही नारे कन्हैया कुमार के नेतृत्व में लगाए गए थे। एक साल पहले इन्ही दावों और तत्थों को आधार मानते हुए दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में चार्ज शीत दाखिल की थी, जिस पर अब कन्हैया कुमार समेत अन्य कोर्ट ने तलब किया है।

इसे भी पढ़ें:-दिल्ली सरकार की मंजूरी के बाद कन्हैया कुमार ने दिया बड़ा बयान, कहा- जल्द हो सुनवाई