Saturday, October 16, 2021

बोन कैंसर से पीड़ित बेटे को पिता ने उतारा मौत के घाट, कहा- नहीं देख सकता…

- Advertisement -
- Advertisement -

तमिलनाडु के सलेम से बहुत ही अजीबोगरीब मामला सामने आया है। 14 साल का एक लड़का बोन कैंसर से जूझ रहा था। वहीं लड़के के पिता ने उसे दवा न देकर जहर देकर मार दिया है। इस खबर के सामने आते ही पुलिस ने आरोपी पिता समेत 3 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि लड़के को तीन दवाओं के मिश्रण वाला इंजेक्शन लगाया गया, जिसकी वजह से लड़के की मौत हो गई।

पेरियासामी ने वेंकटेशन से किया संपर्क

पेरियासामी का 14 साल का बेटा वन्नाथमिज़न पिछले एक साल से बोन कैंसर से पीड़ित था। हालांकि शुरूआती जांच से ही इस बीमारी का पता चल गया था। अपने बेटे को दिन-रात दर्द में रोते हुए देखने पर पेरियासामी ने वेंकटेशन से संपर्क किया, जोकि एक प्रयोगशाला चलाता है। पेरियासामी ने अपने बेटे के इस तकलीफ को दूर का उपया वेंकटेशन से पूछा।

इसके बाद पेरीयासामी और वेंकटेशन ने एक चिकित्सा पेशेवर प्रभु से बात की। प्रभु पेरियासामी के घर गए थे और उन्होंने 14 साल के वन्नाथमिज़न को एक इंजेक्शन दिया था, जिसके बाद ही उसकी मौत हो गई। पुलिस के बताए अनुसार प्रभु दवाओं के एक मिश्रण का इंजेक्शन लड़के को लगाया था, जिसके ‘ओवर डोज़’ से बच्चे की मौत हो गई। पिता अपने बेटे की तड़प देख नहीं पा रहा था जिसकी वजह से उसने यह रास्ता अपनाया। जोकि गलत था लेकिन उसे उस दौरान कुछ भी समझ नहीं आया।

गिरफ्तार किए गए आरोपी

मामला सामने आने के बाद पेरियासामी, वेंकटेशन और प्रभु को कोंगुनाप्रम पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जिन्होंने धारा 109 (अपराध के लिए उकसाना) के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने आगे की जांच शुरू कर दी है।

इसे भी पढ़ें-लखीमपुर खीरी हिंसा : तीन दिन बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर राकेश टिकैत ने दिया बड़ा बयान

 

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -