Saturday, October 16, 2021

आतंकी अशरफ ने पूछताछ में किए बड़े खुलासे, बताया – हाई कोर्ट ब्लास्ट के लिए की थी रेकी

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली। दिल्ली से पकड़े गए पाकिस्तानी आतंकी अशरफ ने स्पेशल सेल के सामने कई बड़े सनसनीखेज खुलासे किए हैं। बताया जा रहा है कि 2011 में हाई कोर्ट के बाहर जो बम धमाके हुए थे। उसके लिए रेकी अशरफ ने ही की थी। 2011 में हुए आतंकी हमले के एक संदिग्ध को जब पाकिस्तानी आतंकी अशरफ की तस्वीर दिखाई तो उसने इसकी पुष्टि की है। फिलहाल अब तक यह साफ़ नहीं हो पाया है कि धमाकों में अशरफ शामिल था या नहीं। इस बारे में अभी सुरक्षा एजंसियों को आतंकी से पूछताछ करनी है।

इसे भी पढ़ें : लखीमपुर खीरी हिंसा : कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति से की मुलाकात, राहुल बोले – निष्पक्ष जांच की उम्मीद नहीं

पाकिस्तानी आतंकी ने इसके अलावा 2011 में ही आईटीओ स्थित पुलिस हेडक्वाटर की भी रेकी की थी। आतंकी ने पूछताछ में बताया कि वो कई बार रेकी के लिए गया लेकिन उसे ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई। इसकी सबसे बड़ी वजह थी कि पुलिस हेडक्वाटर के बाहर लोगों को रुकने नहीं देते थे। आतंकी ने आईएसबीटी की रेकी करके सभी जानकारियां पाकिस्तान के अपने हैंडलर्स को भेजी थी।

जांच एजेंसियां इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि अशरफ दिल्ली के या किसी और ब्लास्ट में शामिल रहा है या नहीं। सूत्रों का कहना है कि आतंकी अशरफ इंडिया गेट और लाल किले की भी रेकी कर चुका है। राजधानी दिल्ली में करीब 10 जगह वो रेकी कर चुका है। उसने यह भी बताया है कि उसके निशाने पर फिलहाल कोई वीआईपी इलाका नहीं था।

आतंकी अपनी पत्नी के साथ नहीं रहता था। पुलिस के मुताबिक अशरफ दिल्ली के स्लीपर सेल का मुखिया था। जो भारत आने वाले आतंकियों को हथियार और लॉजिस्टिक उपलब्ध करवाता था। बताया जा रहा है कि जल्द ही पुलिस कई और लोगों को हिरासत में ले सकती है। आतंकी ने कालिंदी कुंज के पास यमुना किनारे बालू के नीचे दबा कर रखे थे। अशरफ राजधानी में ‘लोन वुल्फ अटैक’ की साजिश रच रहा था।

इसे भी पढ़ें : विधानसभा चुनाव 2022 : पर्दे के पीछे चल रही है 2022 की तैयारी, चाचा-भतीजा इस तारीख को कर सकते हैं गठबंधन का ऐलान

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -