Saturday, October 16, 2021

तालिबान ने भारत को दी चेतावनी, कहा – अफगानिस्तान में अगर सेना भेजी तो…..

- Advertisement -
- Advertisement -

काबुल। तालिबान लगातार अफगानिस्तान के शहरों पर कब्ज़ा करता चला जा रहा है। अफगान सेना तालिबान के खिलाफ हथियार उठा नहीं रही है बल्कि आत्मसमर्पण कर रही है। इस बीच तालिबान राजधानी काबुल के काफी करीब पहुंच चुका है। भारत की अफगानिस्तान में जो परियोजनाएं उसे लेकर तालिबान ने कहा है कि हम भारत के द्वारा अफगानिस्तान में किए गए काम की सराहना करते हैं।

इसे भी पढ़ें : UP के 24 जिले बाढ़ से प्रभावित, CM योगी ने कहा – हरियाणा, मध्य प्रदेश, राजस्थान की वजह से बिगड़े हालात

तालिबान के प्रवक्ता ने मोहम्मद सुहैल शाहीन ने भारत के काम की तारीफ करते हुए कहा कि हम बांध, इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट और सभी इन परियोजनाओं की तारीफ करते हैं, जो देश के विकास और पुनर्निर्माण के साथ आर्थिक समृद्धि के लिए हैं। वहीं इसके साथ तालिबान के प्रवक्ता भारत को चेतावनी देते हुए कहा है कि अभी सब ठीक है लेकिन अगर भारत ने अपनी सेना अफगानिस्तान भेजी तो उसके लिए यह अच्छा नहीं होगा।

अफगानिस्तान में अन्य देशों की सेनाओं का जो हश्र हुआ है, उसे भारत ने देखा है। उनके लिए तो यह खुली किताब है। अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल भारत के खिलाफ न होने देने से जुड़े सवाल पर तालिबान के प्रवक्ता ने मोहम्मद सुहैल शाहीन ने कहा कि हमारी एक सामान्य नीति है। हम किसी भी देश के खिलाफ अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल नहीं होने देंगे। इसके लिए हम प्रतिबद्ध हैं।

भारतीय डेलिगेशन से मुलाकात की खबरों तालिबान प्रवक्ता ने कहा कि वो इसकी पुष्टि नहीं सकते। हां, दोहा में हमारी बैठक थी, जिसमे भारत का भी डेलिगेशन था। मुझे बस इतनी ही जानकारी है। वैसे भारत के डेलिगेशन के साथ अलग से कोई बैठक नहीं हुई है। गुरुद्वारा से निशान साहिब हटाए जाने को लेकर तालिबान प्रवक्ता ने बताया कि उसे सिख समुदाय द्वारा ही हटाया गया था। हमारी अधिकारी जब वहां गए थे तो सिख समुदाय को आश्वासन दिया कि उन्हें झंडा देखकर कोई परेशान नहीं करेगा, जिसके बाद दोबारा उन्होंने गुरुद्वारे पर निशान साहिब फहराया।

इसे भी पढ़ें : CM योगी ने गोरखपुर मंडल के 75 खिलाड़ियों का किया सम्मान, कहा – अच्छे मानदेय पर बहाल होंगे खेल प्रशिक्षक

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -