घरेलू कलह से तंग आकर वैज्ञानिक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

45

मुंबई। पारिवारिक कलह कभी-कभी काफी खतरनाक हो जाता है। इंसान हर लड़ाई लड़ लेता है, लेकिन जब वह घरेलू कलह में उलझता है तो उसे हारना ही पड़ जाता है, और कभी-कभी उसे इसकी कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ जाती है। ऐसा ही मामला मुंबई से सामने आ रहा है, यहां भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र (बीएआरसी) के एक वैज्ञानिक ने यहां अनुशक्ति नगर स्थित अपने सरकारी आवास में पत्नी के हुए झगड़े के बाद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। इस बारे में ट्रॉम्बे पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सिद्धेश्वर गोव ने बताया कि यह घटना गुरुवार को हुई है। वहीं मृतक वैज्ञानिक की पहचान उत्तर प्रदेश के कानपुर के रहने वाले अनुज त्रिपाठी के रूप में हुई है।

इसे भी पढ़ें: खली ने बुलेट से लगाई रेस, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

जानकारी के अनुसार वैज्ञानिक अनुज त्रिपाठी बीएआरसी बायोटेक विभाग में वर्ष 2011 से कार्यरत थे। 28 जनवरी की सुबह अनुज और उनकी पत्नी सरोज के बीच बच्चों को खिलाने को लेकर तीखी बहस हो गई। इसी बहस के बाद अनुज अपने बेडरूम में चले गए। वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक के अनुसार सरोज को कुछ अनहोनी का अंदेशा होते ही वह बेडरूम में गईं तो उन्होंने देखा कि अनुज फांसी के फंदे से लटके हुए थे। उनकी आवाज सुनकर पड़ोसी भी आ गए और अनुज को फांसी से उतार कर अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने जांच के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया।

पुलिस को अनुज त्रिपाठी के घर से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। वहीं ट्रॉम्बे पुलिस ने अनुज की मौत पर दुर्घटनावश का मामला दर्ज किया है। हालांकि पुलिस अनुज की तरफ से इस घातक कदम को उठाने के पीछे की वजहों की जांच कर रही हैं।

इसे भी पढ़ें: सर्वदलीय बैठक में इन मुद्दों पर हुई चर्चा, पीएम बोले-मेरे और किसानों के बीच सिर्फ इस बात की दूरी