Saturday, December 4, 2021

RSS प्रमुख ने चीन को लेकर दिया बड़ा बयान, बोले – चीन पर निर्भर रहे तो झुकना पड़ेगा

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई। स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) के अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने अपने संबोधन में स्वदेशी को बढ़ावा देने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि स्वतंत्र देश जितना आत्मनिर्भर रहेगा, उतना ही वो सुरक्षित रहेगा। मुंबई के एक स्कूल में 75वें स्वतंत्रता दिवस (75th Independence Day) के पर्व पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद आरएसएस प्रमुख ने कहा कि ‘आर्थिक सुरक्षा पर अन्य सभी सुरक्षा निर्भर है। चीन के बहिष्कार को लेकर हम भले कितना भी चिल्लाते रहे, लेकिन जो हमारे पास जो मोबाइल हैं वो क्या हैं ? चीन के आगे झूकना ही पड़ेगा अगर उस पर निर्भरता बढ़ेगी।

इसे भी पढ़ें : Independence Day: PM मोदी का बड़ा ऐलान, आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर देश में चलेंगी 75 वंदे भारत ट्रेनें

मोहन भागवत ने कहा कि प्राकृतिक संसाधनों का दोहन नहीं होना चाहिए और इसे सुनिश्चित करने के लिए एक ‘नियंत्रित उपभोक्तावाद’ की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जीवन का स्तर इस बात पर से तय नहीं होना चाहिए कि कितना हम नहीं कमाते हैं, बल्कि इस बात से जीवन का स्तर तय होना चाहिए कि हम कितना लोगों के कल्याण के लिए वापस देते हैं। हम खुश तब होंगे जब हम सभी के कल्याण के बारे में सोचेंगे। खुश रहने के लिए हमारी आर्थिक स्थिति का बेहतर होना जरूरी होता है।

आरएसएस प्रमुख ने कहा कि स्वदेशी कारोबार अपनी शर्तों पर होता है। सरकार को काम उद्योगों को सहायता और प्रोत्साहन देना है, जो देश के विकास के लिए जरूरी है। उन्होंने कहा कि उत्पादन जन केंद्रित होना चाहिए।
मोहन भागवत ने कहा कि ‘इस देश ने कई उदाहरण खड़े किए है और अब दुनिया इसकी राह देख रही है कि भारत कब खड़ा होगा। नकल करने की जरूरत भारत को नहीं है। हमारे पास तो हजारों वर्षों की कसौटी पर खरा उतरा आर्थिक विचार है। वो समग्र है, जिसमे अधूरापन नहीं है।

इसे भी पढ़ें : Independence Day: आतंकी बुरहान वानी के पिता ने फहराया तिरंगा, बेटे की मौत के बाद किया था सुरक्षाबलों के खिलाफ प्रदर्शन

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -