ममता के गढ़ गूंजा जय श्रीराम, TMC को उखाड़ फेकने का लिया संकल्प

43
mamata

पश्चिम बंगाल (West Bengal) में विधानसभा चुनाव (Assembly elections) से पहले राजनीतिक पारा बढ़ता ही जा रहा है। दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नामखाना में चुनाव के लिए एक रैली को संबोधित किया। जहां शाह ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर एक के बाद एक वार किए। उन्होंने कहा जब जब मैं जय श्री राम का नारा लगाता हूं, तो दीदी बोलती है कि उनका अपमान हो रहा हैं। अमित शाह ने टीएमसी को घेरते हुए रैली में जय श्री राम के नारे भी लगवाए। उन्होंने कहा यह हमारा प्रतीक हैं, टीएमसी को जड़ से उखाड़ फेकने का। पश्चिम बंगाल में इसका नामों निशान तक नहीं रहेगा।

इसे भी पढ़ें-एक बार फिर महाराष्ट में बरसा कोरोना का कहर, एक दिन में इतने नए केस

मछुवारे को नहीं देनी होगी रिश्वत

अपने बंगाल दौरे पर अमित शाह ने कहा कि हमारा लक्ष्य सत्ता परिवर्तन नहीं बल्कि वहां की गरीब जनता की स्थिति में सुधार लाना है। बंगाल की माताओं-बहनों की स्थिति में परिवर्तन हो यहीं हमारा लक्ष्य हैं। इसलिए हम परिवर्तन यात्रा लेकर आए हैं।

गृह मंत्री ने कहा कि भाजपा की सरकार बनती हैं तो मछुआरों को हर साल 6000 रुपये दिए जाएंगे, ठीक उसी प्रकार जिस तरह किसानों को सम्मान निधि मिलती है। मछुवारे को नाव चलाने के लिए किसी तरह की रिश्वत नहीं देनी पड़ेगी। आदिवासियों को रहने के लिए कट मनी नहीं देनी पड़ेगी। यह सब है हमारा परिवर्तन। प्राकृतिक आपदा के समय आपका अधिकार कोई और न ले जाए, इसे परिवर्तन कहते हैं।

भाजपा के दबाव से पूजा कर रहीं ममता दीदी 

बंगाल के नामखाना में रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ममता बनर्जी पर निशाना साधा। कहा कि  बंगाल में दुर्गा पूजा के लिए कोर्ट से अनुमति लेनी होती है। साथ ही दीदी ने स्कूलों में सरस्वती पूजा बंद करा दी गई, भाजपा के डर से ही दीदी सरस्वती की पूजा करती दिखी हैं।

इसे भी पढ़ें-देश में दिखा चक्का जाम का असर, किसानों ने राजधानी एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनें रोकी, पुलिस से तीखी झड़प