राजनाथ सिंह का चीन को सख्त संदेश, ड्रैगन की बखिया उधेड़ने के लिए तैयार है भारत, इसलिए..

27

भारत और चीन के बीच सीमा विवाद अपने शबाब पर पहुंचकर दोनों ही देशों के बीच तनाव की स्थिति न पैदा कर दें इसके लिए भारत सरकार लगातार अपनी तरफ से कदम बढ़ा रही है। अब इस बीच केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने  सीमा विवाद को लेकर ड्रैगन को सख्त संदेश देते हुए कहा कि हम हमेशा से किसी भी विवाद को सुलझाने के लिए वार्ता की पैरोकारी करते रहे हैं, लेकिन यदि कोई हमें बेवजह छेड़ेगा तो फिर उसे छेड़ेंगे भी नहीं। उनका इशारा साफतौर पर ड्रैगन की ओर था। वो ड्रैगन जिसकी हर नापाक कोशिश को नाकाम करने की दिशा में  भारत लगातार कदम बढ़ा रहा है। रक्षा मंत्री ने कहा कि हमारे नरम होने का मतलब यह कतई नहीं है कि कोई हमारे गौरव पर हमला कर दें। उन्होंने कहा कि अगर कोई हमारे स्वाभीमान को ठेस पहुंचाएगा तो उसे इसका मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। लेकिन, अगर चीन अपनी तरफ से वार्ता की पहल करेगा तो बेशक हमारे कदम भी सकारात्मक ही रहेंगे। ये भी पढ़े :जंग में चीन को पड़ेगी मुंह की खानी, जानें भारत की बढ़ती ताकत के बारे में,

इन संकेतों के कई मायने हैं
बता दें कि राजनाथ सिंह ने चीन और भारत की हालिया स्थिति को लेकर जिस तरह के बयान दिए हैं। उसके तरह-तरह के मायने निकाले जा रहे हैं। अपने बयान में रक्षा मंत्री ने कहा कि हमारी निगाहें चिड़िया की आंखों पर है और ऐसे यदि कोई हमें छेड़ेगा तो हम उसे छेड़ेंगे नहीं। लेकिन, दूसरी तरफ हमारी कोशिश यह भी रहेगी कि भारत और चीन के बीच रिश्ते अत्याधिक न बिगड़े।

पाकिस्तान को लेकर कही ये बात
वहीं, रक्षा मंत्री ने अपने बयानों के जरिए न सिर्फ चीन बल्कि पाकिस्तान को भी लपेटे में लिया है। उन्होंने कहा कि  पाकिस्तान कई महीनों से नापाक हरकतें करते हुए आ रहा है। लगातार सीजफायर का उल्लंघन करता हुआ आ रहा है, लेकिन हमारे जवानों ने पाकिस्तान को हर मौकों पर माकूल जवाब देकर अपनी शौर्यता का परिचय दिया है।  उन्होंने कहा कि यह नया भारत है। जिस तरह भारत ने बीते दिनों  चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद को हैंडल किया है। उससे यह साफ जाहिर होता है कि कूटनीति के मामले में भारत का कोई हाथ नहीं पकड़ सकता। ये भी पढ़े :चीन की बखिया उधेड़ने के लिए भारत के साथ आया ये देश, अब किसी भी पल खत्म हो सकता है ड्रैगन का खेल