मोदी सरकार पर फिर से बरसे राहुल गांधी, किसानों के आंदोलन पर कही ये बात 

38

जहां एक तरफ राजधानी दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है तो वहीं राहुल गांधी  केंद्र की मोदी सरकार पर हमलावर बने हुए हैं। किसानों के सुर में सुर  मिलाते हुए राहुल गांधी केंद्र सरकार से विगत दिनों पारित हुए कृषि कानूनों को वापस लेने की  मांग कर रहे  हैं।  मगर , सरकार का रूख स्पष्ट  है किसी भी सुरत में कानून वापस नहीं लिए जाएंगे। चाहे कुछ भी हो जाए, लेेकिन अगर किसान चाहे तो इन कानूनों के कुछ प्रावधानों में संशोधऩ करवा सकते हैं , मगर किसानों का भी  दो टूक कहना है कि चाहे कुछ भी हो जाए कानून तो सरकार को वापस ही लेने होंगे।

वहीं, अब राहुल गांधी ने भी किसानों के इस विरोध प्रदर्शन पर ट्विट कर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मोदी सरकार ने अपने पूँजीपति मित्रों के फ़ायदे के लिए देश के अन्नदाता के साथ विश्वासघात किया है। आंदोलन के माध्यम से किसान अपनी बात कह चुके हैं। अन्नदाताओं की आवाज़ उठाना और उनकी माँगों का समर्थन करना हम सब का कर्तव्य है। बहरहाल , अभी उनका यह ट्वीट काफी तेजी से वायरल हो रहा है। लोग इस पर अलग तरह से अपना रिएक्शन दे रहे  हैं।

बता दें कि आज फिर से किसानों और सरकार के बीच वार्ता हुई है। अब देखना यह होगा कि इस वार्ता का क्या प्रतिफल निकलता है। इससे पहले किसानों और सरकार के विगत 4 जनवरी को वार्ता हुई थी, जिसमें 4 मांगों पर सहमति बनती  हुई दिखी थी। ये भी पढ़े-किसान आंदोलन का हरियाणा की सियासत पर दिखा असर, BJP-JJP गठबंधन को लगा झटका, गिर सकती है खट्टर सरकार