प्रशांत किशोर का भाजपा को खुला चैलेंज, पश्चिम बंगाल में दहाई के आंकड़े के लिए संघर्ष करेगी पार्टी

46

कोलकाता। पश्चिम बंगाल चुनाव की सरगर्मी तेज हो गई है। भाजपा जहां सत्तारूढ़ पार्टी टीएमसी के गढ़ को ढहाने की कोशिश में लगी हुई है वहीं रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने भाजपा को खुला चैलेंज किया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है कि पश्चिम बंगाल में भाजपा को दहाई का आंकड़ा पार करने के लिए ही काफी संघर्ष करना पड़ेगा। बता दें पश्चिम बंगाल में टीएमसी के सहयोगी के रूप में लगे प्रशांत ने कहा, मीडिया में भाजपा को लेकर कुछ ज्यादा ही प्रचार—प्रसार किया जा रहा है। लेकिन सच यह है कि पश्चिम बंगाल में भाजपा को दहाई का आंकड़ा पार करने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ेगी।

इसे भी पढ़ें: इमरान ने ट्वीट से दी गीदड़भभकी, सर्जिकल स्ट्राइक का सता रहा डर

प्रशांत किशोर यहीं नहीं रुके, उन्होंने अपने इस ट्वीट को सेव करके रखने की सलाह देते हुए कहा कि अगर भाजपा का प्रदर्शन इससे बेहतर होगा तो वह ट्विटर छोड़ देंगे। उल्लेखनीय है कि हाल में टीएमसी के कई कद्दावर नेताओं के पार्टी छोड़ने को लेकर सीएम ममता बनर्जी सतर्क हो गई हैं। मीडिया रिपोर्ट्स पर गौर करें तो इसके लिए ममता ने प्रशांत से कड़ी नाराजगी भी जाहिर की है।

ज्ञात हो कि पश्चिम बंगाल में इन दिनों सत्तारूढ़ पार्टी टीएमसी और भाजपा के बीच चुनाव प्रचार को लेकर कड़ा मुकाबला चल रहा है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी ममता का किला ढहाने के लिए इन दिनों पश्चिम बंगाल में ही डटे हुए हैं। वहीं इस बीच कई टीएमसी नेताओं ने पार्टी छोड़ कर भाजपा का दामन थाम लिया है। चुनाव से पहले मची भगदड़ से टीएमसी दबाव में आ गई है। ऐसे में प्रशांत किशोर के इस दावे में कितना दम है यह गौर करने लायक है।

भाजपा ने किया पलटवार

प्रशांत किशोर के ट्वीट पर भाजपा की तरफ से पलटवार किया गया है। भाजपा महासचिव और पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि पश्चिम बंगाल में भाजपा की जो सुनामी चल रही हैं, यहां भाजपा सरकार बनने के बाद देश को एक चुनाव रणनीतिकार खोना पड़ जाएगा। गौरतलब है कि ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल चुनाव को लेकर प्रशांत किशोर से करार किया है।

इसे भी पढ़ें: भीड़ देखकर गदगद हुए अमित शाह, बोले- दीदी के गुस्से का है प्रतीक