पीएम ने बिहार को दी 14 हजार करोड़ की सौगात, कहा— कृषि बिल से किसानों को मिली आजादी

22

पटना। 21वीं सदी के भारत का यह दायित्व बनता है कि वह देश के किसानों के लिए आधुनिक सोच के साथ नई व्यवस्थाओं का निर्माण करे। इसी कड़ी में देश के किसानों और खेती को आत्मनिर्भर बनाने के लिए हमारे प्रयास लगातार जारी हैं। कोरोना संकट काल में भी किसानों से रबी सीजन में गेहूं की रिकॉर्ड खरीद की गई है। किसानों को इस वर्ष रबी में गेहूं, धान, दलहन और तिलहन को मिलाकर 1 लाख 13 हजार करोड़ रुपए एमएसपी पर दिया गया है। यह राशि भी बीते वर्ष के मुकाबले 30 प्रतिशत से ज्यादा है। उक्त बातें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार को 14,258 करोड़ रुपए की नौ राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास के दौरान व्यक्त कीं। उन्होंने कहा मैं देश के सभी किसान को यह भरोसा दिलाता हूं कि एमएसपी की व्यवस्था जैसे चलती आ रही है, वैसे आगे भी जारी रहेगी।

इसे भी पढ़ें: मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल पर एलडीए की टेढ़ी नजर, परिवार संग मकान बचाने को लगा रहे चक्कर

गौरतलब है कि बिहार विधानसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज एक बार फिर राज्य को बड़ी सौगात दी है। प्रधानमंत्री ने 14,258 करोड़ रुपए की नौ राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास और 45,945 गांवों को ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट सेवाओं से जोड़ने को लेकर ‘घर तक फाइबर’ कार्यक्रम का शुभारंभ भी किया। आज शिलान्यास होने वाली योजनाओं में गांधी सेतु, विक्रमशिला सेतु के समानांतर और फुलौत का चार लेन का पुल शामिल हैं। इसी तरह चार सड़कों में आरा-मोहनिया, नरेनपुर-पूर्णिया, रजौली-बख्तियारपुर व कन्हौली-रामनगर है। इस दौरान प्रधानमंत्री ने वर्चुअल रैली के माध्यम से यहां की जनता को संबोधित किया।

वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बिहार की विकास यात्रा का आज एक और खास दिन है। बिहार में कनेक्टिविटी को और बढ़ाने वाली 9 परियोजनाओं का आज शिलान्यास किया गया है। इन परियोजनाओं के लिए बिहार की जनता को बहुत-बहुत बधाई। इसी क्रम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य में आम लोगों के हक में काम हुआ है। जब जनता को इसका लाभ मिलेगा तब सब चीजें साफ हो जाएंगी। उन्होंने कहा कि अब किसानों को वो आजादी मिली है जिसकी जरूरत कई वर्षों से महसूस की जा रही थी। अब किसान जहां चाहे वहां अपना सामान बेच सकता है। हमने बिचौलियों को समाप्त किया है। वहीं सुशील मोदी ने कहा कि राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश का बिहार और पूरे देश में सम्मान है। कल संसद में विपक्षी दलों के सांसदों की तरफ से उनके साथ की गई अभद्रता से अघोषित तौर पर बिहार के लोगों को चोट पहुंचाई है।

इसे भी पढ़ें: बुलडोजर की जगह अब डायनामाइट से उड़ाई जाएगी अतीक की यह संपत्ति, जानें ऐसा क्यों