आज रात से गाजियाबाद में लागू हुआ Night curfew, जानें नई गाइडलाइन

179
Ghaziabad

कोरोना वायरस Corona virus ने देश के कोने-कोने पर त्राही मचा रखी है। कोरोना के बढ़ते मामलो को देखते हुए कई राज्यों में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। इसी तरह दिल्ली-एनसीआर में एक बार फिर से कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे है। जिसको देखते हुए गाजियाबाद के जिलाधिकारी (District Magistrate) डॉ. अजय शंकर पांडेय ने भी गुरुवार को निश्चित रूप से रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक के लिए सात घंटे का नाइट कर्फ्यू लगाने की घोषणा कर दी है।

इसे भी पढ़ें-यौन संबंध बनाने की बात करना 17 वर्षीय लड़के को पड़ा भारी, भेजी अश्लील फोटो

जिला प्रशासन द्वारा जारी हुए आदेश के अनुसार,  कंटेनमेंट और रेड जोन के लिए भी कई नयी व्यवस्थाएं जारी की गई है। पार्क, सामुदायिक केंद्र और जिम दोबारा से बंद कर दिए गए है। साथ ही कई लोग अपने घरों पर काम करने वाली मेड को भी आने से रोक दिया है। हालांकि, अखबार देने वाले पर किसी प्रकार की कोई रोक नहीं लगाई गई है। इस बात के लिए जिलाधिकारी ने कड़ी रूप से निगरानी करने का आदेश दिया है।

बताया जा रहा है कि,  गाजियाबाद में 100 दिन बाद गुरुवार को कोरोना संक्रमित एक मरीज की मौत हो गई। वैशाली सेक्टर-5 में रहने वाली 82 साल की बुजुर्ग महिला की 28 मार्च को कोरोना जांच के दौरान कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी। जिसके बाद 29 मार्च  को संतोष अस्पताल में भर्ती कराया था। अब तक कुल 103 लोग कोरोना की चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं।

प्राइवेट अस्पतालों में बेड रिजर्व करने के आदेश 

कोरोना वायरस के बढ़ते मरीजों को देखते हुए इस बार फिर से प्राइवेट अस्पतालों में बेड रिजर्व करने के लिए आदेश जारी कर दिया गया है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए गए हैं कि वह सभी अस्पतालों में कॉर्डीनेट करें। जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने कहा कि इससे पहले कोरोना के मरीजों के लिए के लिए अच्छी भूमिका निभाई गई है। ऐसे मुश्किल के घड़ी में प्राइवेट अस्पतालों ने प्रशासन के साथ मिलकर काम किया।

इसे भी पढ़ें-पूजा स्थल पर इन चीजों को रखना है शुभ, मां लक्ष्मी की बरसेगी कृपा