नव वर्ष पर छह राज्यों को पीएम मोदी ने दिया तोहफा, लाइट हाउस प्रोजेक्ट्स की रखी आधारशिला

155

नई दिल्ली। नए साल से हर किसी की नई उम्मीदें जुड़ी होती हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों की ऐसी ही उम्मीदों को साकार करते हुए आज छह राज्यों के छह शहरों में वैश्विक आवासीय प्रौद्योगिकी चुनौती—भारत (जीएचटीसी—भारत) के तहत हल्के मकानों से जुड़ी परियोजनाओं की आधारशिला रख दी है। इस मौके पर आयोजित समारोह में उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सस्ते और टिकाऊ आवासीय उत्प्रेरक (एएसएचए—इंडिया) के तहत विजेताओं की घोषणा भी की।

इसे भी पढ़ें: नए साल के मौके पर भारत को मिल सकती है बड़ी राहत, कोरोना वैक्सीन से जुड़ा है ये पूरा मामला 

पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री इसी कार्यक्रम में आवास योजना (शहरी) को लागू करने में उत्‍कृष्‍ट योगदान देने वालों को भी वार्षिक पुरस्कार प्रदान किए। इस मौके पर आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी के साथ त्रिपुरा, झारखंड, मध्य प्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के राज्यपाल और मुख्यमंत्री मौजूद थे। इस मौके पर पीएम ने नवारिति‍ह के नाम से नवोन्मेषी निर्माण प्रौद्योगिकी पर एक पाठ्यक्रम की भी शुरुआत की और 54 नवोन्मेषी आवासीय निर्माण प्रौद्योगिकी के एक संग्रह का भी विमोचन किया।

प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसार देश में पहली बार हल्के मकान से जुड़ी परियोजनाएं निर्माण क्षेत्र में इतने बड़े पैमाने पर नए जमाने की वैकल्पिक वैश्विक प्रौद्योगिकी, सामग्री और प्रक्रियाओं का बेहतरीन प्रदर्शन कर रही हैं। यह निर्माण जीएचटीसी-इंडिया के अंतर्गत किया जा रहा है। इन हल्के मकानों का निर्माण कार्य इंदौर, राजकोट, चेन्नई, रांची, अगरतला और लखनऊ में चल रहा है। इसके तहत हर जगह एक हजार आवासों का निर्माण कराया जाना है। इस निर्माण कार्य को एक साल के अंदर पूरा कर लिए जाने की संभावना है।

इसे भी पढ़ें: यूपी में किसान सम्मान निधि में बड़ा घोटाला, ढाई लाख से अधिक अपात्रों को दिया गया लाभ