हिस्ट्रीशीटर ने पुलिस को दी चुनौती, कहा- मुझे तो भगवान भी नहीं पकड़ सकते, एक्शन में आई पुलिस

319

मुंबई पुलिस को खुलेआम चुनौती देना एक हिस्ट्रीशीटर को भारी पड़ गया। हिस्ट्रीशीटर ने पुलिस से कहा था कि, मुझे भगवान भी नहीं पकड़ सकते है। इसके बाद मुंबई पुलिस ने चुनौती को स्वीकार किया और हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तार करके जेल की दीवारों में कैद कर दिया। अब जब अपराधी पकड़ा गया था तो वो पछता रहा है कि, क्यों उसने मुंबई पुलिस को चुनौती दी थी। उसका कहना है कि, भगवान तो मुझे नहीं पकड़ पाते कभी लेकिन मैं पुलिस को तो भूल ही गया था। हिस्ट्रीशीटर की गिरफ़्तारी के बाद अब मुंबई पुलिस की भी तारीफ हो रही है।

इसे भी पढ़ें: चक्का जाम आज,दिल्ली की सुरक्षा में तैनात किए गए 50 हजार जवान, बंद हो सकती है मेट्रो सेवा

खबरों के अनुसार, पप्पू हरिश्चंद्र उर्फ खोपड़ी एक हिस्ट्रीशीटर अपराधी है, जो मुंबई के पोवई में रहता है। पप्पू के खिलाफ मुंबई के कई पुलिस स्टेशनों में दर्जनों मामले दर्ज हैं। पिछले करीब 8 वर्षों वो लापता चल रहा था। पुलिस के पास उसके कोई जानकारी नहीं थी। पिछले दिनों आरे पुलिस स्टेशन के अधिकारियों को पप्पू के शहर आने की सूचना मिली। ये सूचना पुलिस उसके मुखबिर से मिली थी। मुखबिर के पास हिस्ट्रीशीटर की पूरी जानकारी थी।

पुलिस को दी गई जानकारी में मुखबिर ने बताया कि, पप्पू का कहना है कि, मुझे तो भगवान भी नहीं पकड़ सकते हैं। पप्पू की इस चुनौती के पुलिस ने भी अब उसे सलाखों के पीछे भेजने का पूरा मन बना लिया था। पुलिस उपनिरीक्षक उल्हास खोलम का कहना है कि, मुखबिर की सूचना मिलते ही उसे सही वक़्त पर पुलिस ने दबोच लिया। गिरफ्तार होने के बाद पप्पू ने कहा कि, मुझे तो भगवान भी पकड़ पाते लेकिन पुलिस वालों को मैं भूल गया था।

पुलिस का कहना है कि, पप्पू रॉयल पाम क्षेत्र में डकैती डालने तैयारी में लगा हुआ था। उस पकड़ने के पुलिस की टीम के सदस्य सादी वर्दी में तैनात थे। टीम ने जब उसे दबोजा तो उसके पास से पुलिस देसी तमंचा और दो जिंदा कारतूस मिले।

इसे भी पढ़ें: कोरोना टीकाकरण के बाद 1800 स्वास्थ्यकर्मी हुए लापता, जानें पूरा मामला