किसान ने बेटे की जगह कुत्ते के नाम की करोड़ों की जमीन, जानें क्या है बड़ी वजह

285

भोपाल। मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा के बाड़ीबाड़ा गांव में रहने वाले किसान ने अपनी आधी संपत्ति अपने वफादार कुत्ते जैकी के नाम कर दी है। किसान का नाम ओम नारायण वर्मा है, जो अपने बेटे के व्यवहार से बेहद दुखी था। इसके बाद जब उसने अपनी वसीयत बनाई तो अपने वफादार कुत्ते के नाम अपनी संपत्ति कर दी। किसान के अनुसार, जैकी (कुत्ता) उसकी हर वक़्त देख रेख करता है, इसलिए अब उसने ऐसी वसीयत बनाई है, जो जैकी का ध्यान रखेगा। वही उसकी संपत्ति का हक़दार होगा। किसान ओम नारायण वर्मा का कहना है कि, उसके पास करीब 21 एकड़ की पैतृक जमीन है। जिसका अब एक हिस्सा मैंने अपनी पत्नी को दे दिया है और एक हिस्सा अपने कुत्ते के नाम कर दिया है।

इसे भी पढ़ें: यूपी में किसान सम्मान निधि में बड़ा घोटाला, ढाई लाख से अधिक अपात्रों को दिया गया लाभ

ओम नारायण वर्मा छिंदवाड़ा के चौरई ब्लॉक के बाड़ीबड़ा गांव में रहते हैं। उनकी उम्र 50 वर्ष की है और उन्होंने दो शादियां की हैं। उनकी पहली पत्नी से तीन बेटियां और एक बेटा है, जबकि दूसरी पत्नी से दो बेटियां हैं। ओम नारायण ने अपनी संपत्ति का आधा हिस्सा अपनी दूसरी पत्नी के नाम कर दिया है और आधा हिस्सा अपने वफादार कुत्ते जैकी के नाम कर दिया है।

ओम नारायण वर्मा ने अपनी वसीयत में लिखा है कि, मेरी दूसरी पत्नी और कुत्ता जैकी मेरी सेवा करते हैं। इसलिए वो मेरे जीते जी मेरे लिए सबसे ज्यादा प्रिय हैं। वहीं मेरे मरने के बाद मेरी पूरी संपत्ति और जितनी भी जमीन जायदाद है। उसकी हक़दार मेरी दूसरी पत्नी चम्पा वर्मा और पालतू कुत्ता जैकी ही होगा। वहीं जो शख्श कुत्ते की सेवा करेगा वो ही जैकी की जायदाद का अगला वारिस माना जाएगा।

इसे भी पढ़ें: खुलासा: जियो के सर्वर रूम में लूट करने वाले बदमाशों के बैंक खातों में विदेशों से भेजे गए 10 करोड़ रुपए