तिहाड़ जेल से हत्या के आरोपी का हुआ अपहरण, सुरक्षा व्यवस्था पर उठ रहे सवाल

120

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली से एक ऐसी घटना सामने आ रही है, जिसे सुन यकीन नहीं होता है कि, वर्ष 2020 में भी ऐसा हो सकता है। तिहाड़ जेल परिसर से हत्या के वांटेड आरोपी का अपहरण हो गया। पिछले दिनों आरोपी के वकील से मारपीट करने का भी मामला सामने आया है। खबर के मुताबिक कुछ पुलिसकर्मी और दो से तीन लोग जेल में घुसे और आरोपी के साथ जमकर मारपीट की और उसे उठाकर ले गए। जेल में जो लोग आये थे उनकी गेट के रजिस्टर में को कोई एंट्री तक नहीं है। हत्या का आरोपी मजिस्ट्रेट के सामने जेल में आत्मसमर्पण करने आया हुआ था।

इसे भी पढ़ें: भारतीय गेंदबाजों के सामने टिक नहीं पाए ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज, 195 पर सिमटी पारी

इस मामले के सामने आने के बाद जेल के ड्यूटी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट राघव शर्मा ने इसे गंभीरता से लिया है। कोर्ट ने सुभाष प्लेस थानाध्यक्ष और मामले की जांच कर रहे अधिकारी को तलब कर लिया है। इसके साथ ही कोर्ट ने संबंधित सहायक पुलिस आयुक्त को आरोपी से जुड़ी जानकारी की एक रिपोर्ट पेश करने का निर्देश भी दिया है। इस मामले की सुनवाई शनिवार को होनी है।

ये पूरा मामला सुभाष पैलेस थाने का है, जहाँ के हत्या का वांटेड आरोपी कार्तिक उर्फ माधव ने रोहिणी कोर्ट में आत्मसमर्पण करने के लिए 22 दिसंबर को आवेदन किया था। कोरोना संकट के कारण मामले की सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंसिग से होने की वजह से कोर्ट ने उसे जेल में डयूटी मजिस्ट्रेट के सामने सरेंडर करने के लिए कहा। जिसके बाद जेल में सुनवाई शुरू होने से पहले ही हत्या के आरोपी का अपहरण हो गया।

आरोपी के वकील अनवर अहमद खान ने कोर्ट में बताया कि, जेल परिसर में मुवक्किल पास वाटर पार्क के पास थे। इस दौरान ही तीन से चार लोगों ने उनसे और उनके मुवक्किल के साथ मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद पुलिस जब आई तो उन्होंने भी मारपीट करना शुरू कर दिया। जो बाद में हत्या के आरोपी को उठाकर ले गए।

इसे भी पढ़ें: योगी ने प्रदेश छोड़ने तो शिवराज ने जमीन में गाड़ देने की दी चेतावनी