पूर्वी लद्दाख में बढ़ा तनाव, भारतीय चौकियों के सामने चीन ने तैनात किए आधुनिक टैंक

287

नई दिल्ली। भारत-चीन सीमा पर चल रहे तनाव बीच ड्रैगन की नई साजिश का खुलासा हुआ है। भारतीय चौकियों के ठीक सामने चीन ने अपने टैंक तैनात कर दिए हैं। इससे एक बार फिर दोनों देशों के बीच तनाव अपने चरम पर पहुंचा सकता है। गौरतलब है कि, भारत और चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर अप्रैल 2020 से विवाद चल रहा है। चीन ने LAC पर जांग ला, रेचिन ला और मुखोसरी पर टैंक तैनात किए हुए हैं। इन टैंकों की संख्या 30-35 बताई जा रही है और ये हल्के और आधुनिक है। भारत भी चीन की हर हरकत का जवाब देने की तैयारी कर चुका है। करीब 17 हज़ार किलो मीटर की ऊंचाई पर भारतीय सेना ने भी अपने टैंक तैनात किये हुए हैं। ये ऐसा पहला मौका है जब भारतीय सेना इतनी ऊंचाई पर टैंकों की तैनात किया हुआ है। सेना ये टैंक पूर्वी लद्दाख के रेजांग ला, रेचिन ला और मुखोपरी की पहाड़ियों पर तैनात किए हैं।

इसे भी पढ़ें: सेना की सख्ती के चलते आतंकियों ने बदली रणनीति, अब इस ऐप के जरिए कर रहे युवाओं की भर्ती

भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में विवाद बीते वर्ष अप्रैल माह से चल रहा है। ये विवाद तब शुरू हुआ जब भारत द्वारा लद्दाख के अक्साई चिन की गलवान घाटी सड़क निर्माण का काम हो रहा था। इस दौरान चीन ने निर्माण कार्य को लेकर विरोध जताया। इसके बाद पांच मई को दोनों सेनाओं के बीच झड़प भी हुई। इसके बाद विवाद और भी ज्यादा बढ़ गया। जो विवाद लद्दाख में शुरू हुआ था, उसका असर 9 मई को सिक्किम के नाथू ला में भी देखने को मिला।

जहां चीनी सैनिक भारतीय सैनिकों से उलझ गए। इस झड़प में कई सैनिक चोटिल भी हुए हैं। वहीं 15 जून की रात लद्दाख के गलवान घाटी भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई खूनी झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए। इसके बाद सीमा हालात युद्ध जैसे हो गए। दोनों देशों के बीच तनाव खत्म करने के लिए बातचीत के कई दौर हो चुके हैं लेकिन कोई भी हल बा तक निकला नहीं है।

इसे भी पढ़ें: सीमा पर तनाव के बीच, दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल प्रोजेक्ट का ठेका चीनी कंपनी को मिला