रेलवे की इस खबर को सुन यात्री हो गए थे परेशान, अब indian railway ने खुद बताया इसके पीछे का सच 

37

indian railway news: भारतीय रेलवे की हमेशा से कोशिश रही है कि वो यात्रियों को बेहतर सुविधाएं मुहैया करा सके। इसके लिए वो हमेशा से कोई न कोई प्रयोग करती हुई आई है, लेकिन बीते कुछ दिनों से मीडिया में यह खबरें चल रही थी कि रेलवे अपने मुसाफिरों से अतरिक्त किराया वसूली करने जा रहा है, जिससे यात्री परेशान हो रहे  थे, लेकिन खुद रेलवे ने सामने आकर मीडिया द्वारा चलाई जाने वाली इस खबर झूठ व तथ्यहीन बताया है। रेलवे ने स्पष्ट किया है कि उसने अपने किराए में किसी भी प्रकार की बढ़ोतरी नहीं की है और न ही किसी भी यात्री से अतरिक्त किराया वसूला जा रहा है। रेलवे का किराया पूर्व की तरह ही बरकरार है। ये भी पढ़े :नवरात्रि से पहले भारतीय रेलवे ने लिए बड़ा फैसला, चलाएगी 39 जोड़ी स्पेशल ट्रेन, देखें लिस्ट

इसके साथ ही रेलवे ने इस संदर्भ में अतरिक्त जानकारी देते हुए कहा कि रेलवे द्वारा चलाई जाने वाली स्पेशल ट्रेेनों का किराया साधारण ट्रेनों की तुलना मेें  अधिक रहा है। यह नियम 2015 से लागू है। ऐसा कोई पहली मर्तबा नहीं हो रहा है। आमतौर पर स्पेशल ट्रेन इसलिए चलाई जाती है, ताकि बेकाबू हो रहे भीड़ को काबू में किया जा सके। लेकिन, पिछले कुछ दिनों से मीडिया के जरिए रेलवे द्वारा अतरिक्त किराया वसूलने की बात कही जा रही है, जो कि बिल्कुल झूठ है। ऐसा कोई भी फैसला रेलवे द्वारा अभी तक नहीं लिया गया है।

बता दें कि बीतेे  दिनों जहां लॉकडाउन में मजदूरों को घर पहुंचाने के लिए स्पेशल ट्रेनें चलाई गई। वहीं फेस्टिव सीजन के दौरान भी मुसाफिरों की बढ़ती संख्या को मद्देनजर रखते हुए स्पेशल ट्रेनों को चलाया गया , ताकि बेकाबू हो रही भीड़ को नियंत्रित किया जा सके । लेकिन, उस वक्त भी रेलवे की तरफ से अतरिक्त किराया नहीं वसूला गया। खैर , अब रेलवे द्वारा इस तरह अपना रूख स्पष्ट करने पर हर यात्री राहत की सांस लेता हुआ नजर आ रहा है। ये भी पढ़े :भारतीय रेलवे की बड़ी तैयारी, 21 सितंबर से ट्रैक पर दौड़ेंगी 40 क्‍लोन ट्रेनें