हैदराबादः दिशा को ‘एनकाउंटर मैन’ ने दिलाया न्याय, चारों दरिंदों के एनकाउंटर पर बोलीं निर्भया की मां- वो इसी लायक थे…

97

कुछ दिन पहले तक जहां हम आपको ये खबर दे रहे थे कि, देश के हर जगह से हत्यारों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की जा रही थी। तो आज हम आपसे ये नहीं कहेंगे बल्कि आज हम ये कहेंगे कि, दिशा के हत्यारों को सजा मिल गई है, और उन्हें भी उसी जगह मारा गया है जहां उन्होंने दिशा के साथ वारदात को अंजाम दिया था। हैदराबाद की पुलिस ने दिशा के चारों आरोपियों को उस वक्त ढेर कर दिया। जब उन्होंने भागने की कोशिश की। जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार सुबह पुलिस के साथ हैदराबाद के NH-44 पर पुलिस ने वारदात को अंजाम दिया। फिलहाल इस खबर को सुनने के बाद से ही देश में खुशी का माहौल है और हर कोई हैदराबाद पुलिस की तारीफ कर रहा है। क्योंकि, जहां साल 2012 से एक बेटी के हत्यारों को अब तक कोई सजा नहीं मिल पाई है। ऐसे में इस बेटी को चंद दिनों के अंदर ऐसी सजा दी गई। जिससे भले ही पुलिस पर सवाल उठ सकते हैं। लेकिन, पुलिस की हिम्मत के कारण ही आरोपियों को सजा मिल पाई है।

अब आपको उस व्यक्ति से मिलवाएंगे जिनकी वजह से ये सब हुआ। दरअसल में जिन्होंने इस पूरी घटना को अंजाम दिया उन्हें जाना ही एकाउंटर मैन से जाना जाता है। इनका नाम है साइबराबाद पुलिस के कमिश्नर वी. सी. सज्जनार। इन्होंने ही दिशा के आरोपियों को 8 दिनों के अंदर मुठभेड़ में ढेर कर दिया।आपको बता दें, अभी इस केस की पूरी मजिस्ट्रेट जांच होगी। जिसमें ये देखा जाएगा कि, मुठभेड़ की जरूरत थी या नहीं। मुठभेड़ में मारे गए चारों आरोपियों ने 27 नवंबर को महिला डॉक्टर के गैंगरेप करने के बाद उस जला दिया था। जिसमें दिशा की मौत हो गई थी। घटना के बाद से ही देश में इंसाफ की गुहार लगाई जा रही थी।

बता दें कि निर्भया की मां आशा देवी ने अपनी प्रतिक्रिया दी और इस एनकाउंटर को पूरा जायज बताया. उन्होंने कहा कि ये आरोपी उसी लायक थे, क्योंकि उन्होंने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया था.आपको दता दें कि निर्भया की मां ने कहा, ‘हैदराबाद पुलिस की दरियादिली की वह दाद देती हैं, उनका बहुत शुक्रिया करती हैं. ये आरोपी इसी लायक थे क्योंकि उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया था.’और उन्होंने कहा कि आप ये सोचिए कि आरोपियों के मन में इतना जुर्म भरा हुआ था, कि वह पुलिस कस्टडी से भागने की कोशिश कर रहे थे. लेकिन आज परिवार को इंसाफ मिला, मैं भी सात साल से संघर्ष कर रही हूं , लेकिन आज भी निर्भया के आरोपियों को फांसी नहीं दी गई है.’

Read also :उन्नाव: दुष्कर्म पीड़िता को जलाने पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू बोले, यूपी में जंगलराज, सुरक्षित नहीं महिलाएं