Thursday, January 20, 2022

रोड शो-रैली पर चुनाव आयोग ने बढ़ाया प्रतिबंध, जिला निर्वाचन अधिकारियों को दिए ये सख्त निर्देश

चुनाव आयोग ने सभी सियासी दलों को आगाह करते हुए कहा है कि, वो कोरोना दिशा निर्देशों का पालन करें। आयोग ने प्रदेश और जिला निर्वाचन अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा है कि, वो कोरोना प्रोटोकॉल को देखते हुए सभी दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं और जनता की गतिविधियों पर नजदीक से नजर रखें।

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली। कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए चुनाव आयोग ने शनिवार को बड़ा फैसला किया। आयोग ने पांच राज्यों में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव में रोड शो, रैली पर लगे प्रतिबन्ध को आगे 22 जनवरी तक बढ़ा दिया है। इससे पहले ये पाबंदिया 15 जनवरी तक लगी हुई थीं। आयोग 22 जनवरी को संक्रमण के मौजूदा हालात की दोबारा समीक्षा करेगा लेकिन तब तक सियासी दलों को डिजिटल प्रचार करना होगा। आयोग ने आज ये भी साफ़ कर दिया है कि, इनडोर सभागार में हॉल की क्षमता से 50 प्रतिशत लोगों की सभा की जा सकती है लेकिन 300 से ज्यादा लोग वहां मौजूद नहीं हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : UP Elections : BJP ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, CM योगी गोरखपुर से लड़ेंगे चुनाव, इन विधायकों का कटा टिकट

चुनाव आयोग ने सभी सियासी दलों को आगाह करते हुए कहा है कि, वो कोरोना दिशा निर्देशों का पालन करें। आयोग ने प्रदेश और जिला निर्वाचन अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा है कि, वो कोरोना प्रोटोकॉल को देखते हुए सभी दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं और जनता की गतिविधियों पर नजदीक से नजर रखें। ऑब्जर्वर्स से कहा गया है कि वो सतर्क रहें और जनता की नजरों में रहें, जिससे उन्हें भी पता रहे कि, उन पर नजर रखी जा रही है।

चुनाव आयोग ने इससे पहले बताया था कि, बताया था कि कोरोना के खतरे को देखते हुए सैनेटाइजर, थर्मल स्कैनर का पोलिंग बूथ पर इस्तेमाल होगा। ग्राउंड फ्लोर पर ही सभी वोटिंग हॉल होंगे। वहीं, कोरोना संक्रमित या कोरोना संदिग्ध के घर वीडियो टीम के साथ आयोग की टीम विशेष वैन से जाएगी और वोट डलवा कर आएगी। उन्हें बैलेट पेपर से वोट डालने का अधिकार मिलेगा। वहीं 80 वर्ष से अधिक उम्र वाले मतदाताओं के लिए पोस्‍टल बैलेट का उपयोग किया जाएगा।

बता दें कि उत्तराखंड, पंजाब और गोवा में एक चरण में ही चुनाव होंगे। तीनों राज्यों में 14 फरवरी को मतदान होगा। वहीं मणिपुर में 2 चरणों में होगा मतदान होगा। पहले चरण के लिए 27 फरवरी वोट डाले जाएंगे, जबकि दूसरे चरण के लिए 3 मार्च मतदान होगा। उत्तर प्रदेश में मतदान 7 चरणों में होगा। पहला चरण 10 फरवरी, दूसरा चरण 14 फरवरी, तीसरा चरण 20 फरवरी, चौथा चरण 23 फरवरी, पांचवा चरण 27 फरवरी, छठा चरण 3 मार्च और सातवें चरण के लिए 7 मार्च को मतदान होगा। जबकि वोटों की गिनती 10 मार्च होगी।

इसे भी पढ़ें : UP Election: अखिलेश यादव का CM योगी पर तंज, अब उन्हें गोरखपुर में ही रहना पड़ेगा, सभी सीटों पर जीत दर्ज करेगी सपा

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -