दिल्ली हिंसा: इशरत जहां ने बताई वजह, क्यों लिया सलमान खुर्शीद और प्रशांत भूषण का नाम

47

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्वी दिल्ली एलाके में बीते फरवरी माह हुई हिंसा के मामले दिल्ली पुलिस द्वारा दाखिल की गई चार्जशीट में कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद और अधिवक्ता प्रशांत भूषण का नाम शामिल है। इसके साथ ही इस आरोपपत्र में विपक्ष के कई और बड़े नेताओं के साथ-साथ वकील और सामाजिक कार्यकर्ताओं के नाम भी सामने शामिल हैं। दिल्ली पुलिस द्वारा कड़कड़डूमा स्थित अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अमिताभ रावत की अदालत में जो आरोपपत्र दाखिल किया गया है उसमें में वरिष्ठ कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद व अधिवक्ता प्रशांत भूषण का नाम शामिल है। खबरों में मुताबिक इनका नाम कांग्रेस की पूर्व पार्षद एवं दिल्ली दंगों की साजिशकर्ता मानी जाने वाली इशरत जहां और एक अन्य आरोपी खालिद सैफी ने अपने इकबालिया बयान में लिया है। लेकिन इस तरह के बयान भारतीय साक्ष्य अधिनियम की धारा 25 के अन्तर्गत अदालत में माना नहीं जाता है।

यह भी पढ़ें:-बिकरु कांड: पुलिस मुठभेड़ में मारे गए प्रेम की बहु मनु पांडेय हुई आजाद

अपने बयान में, इशरत जहां ने बताया कि पूर्व विदेश मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद, अधिवक्ता प्रशांत भूषण, सामाजिक कार्यकर्ता हर्ष मंदर, योगेंद्र यादव जैसे कई दिग्गजों ने प्रदर्शनों में भाग लिया। इसके अलावा खालिद सैफी और अन्य गवाहों ने भी इसी तरह के बयान दिए हैं। इन सभी को पुलिस ने आरोपपत्र के कॉलम 12 में रखा है। जिसका मतलब है संदिग्धों की सूची। जरूर पड़ी तो इनसे भी पूछताछ की जा सकती है। दिल्ली दंगे के मुख्य आरोपी बनाए गए ताहिर हुसैन, इशरत जहां एवं अन्य के वकीलों को बीते सोमवार को चार्जशीट की कॉपी मिल गई है। यह पूरक आरोपपत्र दिल्ली दंगों में मुकदमा दर्ज होने के दो सौ दिनों के भीतर दाखिल कर दी गई है।

यह भी पढ़ें:-दीपिका पादुकोण के सामने दीवार बनकर खड़े हुए रणवीर सिंह, NCB से की ये मांग

दंगों की साजिश के पीछे आरोपपत्र में मुख्य आरोपी के तौर पर ताहिर हुसैन, सफूरा जारगर, गुलफिशा खातून, दवांगना कलिता, शफा-उर-रहमान, आसिफ इकबाल तन्हा, नताशा नरवाल, अब्दुल खालिद सैफी, इशरत जहां, मीरन हैदर, शबाद अहमद, तलसीम अहमद, सलीम मलिक, मोहम्मद सलीम खान और अतहर खान का नाम शामिल है। इसके अलावा पुलिस ने बताया कि आरोपपत्र में उमर खालिद, शरजील इमाम, मोहम्मद परवेज अहमद, मोहम्मद इलयास, दानिश और फैजल खान के नाम नहीं है। इनके नाम को जोड़कर आगे पूरक आरोपपत्र तैयार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:-काजोल और अजय देवगन ने एक साथ न रहने का किया फैसला, जानिए क्यों