दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा लाल किले पर हुई हिंसा का मुख्य आरोपी दीप सिद्धू

49
Deep Sidhu

नई दिल्ली। 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान हिंसा भड़काने और लाल किले की प्राचीर पर धार्मिक झंडा फहराने के मुख्य आरोपी दीप सिद्धू को दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। दीप सिद्धू गणतंत्र दिवस के दिन हुई हिंसा के बाद से लगातार फरार चल रहा था। पुलिस से उस पर एक लाख का इनाम घोषित किया था। गौरतलब है कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली की सीमाओं पर नवंबर 2020 से जमे किसानों ने 26 जनवरी को अपना विरोध जताते हुए ट्रैक्टर रैली निकाली थी, लेकिन इस रैली के दौरान लाल किले समेत दिल्ली के कई स्थानों पर हिंसा भड़क गयी थी, जिसमें कई पुलिस कर्मी गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। वहीं उपद्रवियों ने लाल किले की प्राचीर पर केसरिया झंडा फहरा दिया था।Read also:- खुलासा : पहले ही रची जा चुकी थी 26 जनवरी को हुए उपद्रव की साजिश, कुछ ख़ास ग्रुपों को मिले थे ये निर्देश

इस मामले का मुख्य आरोपी दीप सिद्धू उस समय लाल किले में ही मौजूद था और भड़काऊ भाषण दे रहा था, लेकिन जैसे ही हिंसा भड़की वह फरार हो गया। हिंसा के बाद से दिल्ली पुलिस लगातार उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दे ही थी। इस बीच वह लगातार सोशल मीडिया पर एक्टिव रहा। दिल्ली से भागने के बाद पहले उसकी लोकेशन हरियाणा थी फिर पंजाब हो गयी थी।

खबरों की मानें तो 26 जनवरी को किसान ट्रैक्टर परेड में भड़की हिंसा एक अंतर्राष्ट्रीय साजिश थी और इस पूरे मामले में दीप सिद्धू की मदद उसकी कैलिफोर्निया में रहने वाली एक महिला मित्र और एक अभिनेता कर रहा था।
ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा से पहले 17 जनवरी को सिख फॉर जस्टिस से जुड़े केस के सिलसिले में एनआईए ने सिद्धू को तलब भी किया था। Read also:- छह फरवरी को होने वाले चक्का जाम को लेकर राकेश टिकैत ने किया यह बड़ा एलान, जानें क्या कहा