16 जनवरी से शुरू होने जा रहा है टीकाकरण अभियान, लेकिन आम लोगों को अभी नहीं लगेगा टीका

25

खैर…बहुत लंबी कश्मकश के बाद कोरोना वैक्सीन बनकर तैयार हो चुकी है। कोरोना को मात देने के लिए पूरा खाका भी तैयार कर लिया गया है। अब बस जरूरत है। उसे जमीन पर उतारने की। कोरोना वैक्सीन तैयार होने के बाद अब आगामी 16 जनवरी से व्यापक स्तर पर टीकाकरण अभियान शुरू होने जा रहा है। इसके तहत सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों समेत अग्रिम मोर्चे के कर्मचारियों को टीका लगाया जाएगा। लेकिन, आम आदमी का नंबर अभी नहीं आने वाला है। यह टीका सबसे पहले उन  लोगों को लगाया जाएगा जो कोरोना के खिलाफ अग्रिम मोर्चे पर आकर जंग लड़ रहे हैं। फिर, इसके बाद आम लोगों को टीका लगाया जाएगा। बताया जा रहा है कि आगामी मार्च माह से आम लोगों के लिए टीका अभियान शुरू कर दिया जाएगा। लेकिन, फिलहाल तो यह टीका महज उन्हीं लोगों के लिए है, जो अग्रिम मोर्चे पर कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं।

ये भी पढ़े :फाइजर की कोरोना वैक्सीन लेने के बाद नर्स-डॉक्टर की हुई मौत, गुणवत्ता पर उठे सवाल

ऐसा है पूरा प्लान.. 

बता दें कि आम लोग मार्च माह से टीका लगवा सकेंगे। लेकिन, इसके लिए पहले उन्हें अपना पंजीकरण  करवा कर अपना नाम दर्ज करवाना होगा। वहीं, जब आम लोगों के लिए टीकाकरण अभियान शुरू  होगा, तो उसमें 12 साल से कम उम्र के बच्चों को शामिल नहीं किया जाएगा।  इसके इतर महिलाओं और जो  लोग बीमारियों से जूझ रहे हैं। उन्हें भी वैक्सीन नहीं दिया जाएगा।  और जो लोग कोरोना से संक्रमित होकर अब दुरूस्त हो चुके हैं। वे भी यह टीका लगवा सकते हैं और जो 50 साल या उससे अधिक उम्र में किसी बीमारी से जूझ रहे हैं। उसे यह वैक्सीन नहीं दी जाएगी। वैक्सीन वितरण को लेकर एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया गया है, जिसमें इस बात का पूऱा खाका तैयार किया गया है कि किसे अभी वैक्सीन देनी है और किसे नहीं देनी है। फिलहाल वैक्सीन तो सभी को दी जाएगा, लेकिन क्रमबद्धता और प्राथमिकता को ध्यान में रखते हुए।

ये भी पढ़े :जानें 69 प्रतिशत भारतीय क्यों हिचक रहे हैं कोरोना वैक्सीन लगवाने से