Saturday, October 16, 2021

CBI कोर्ट का फैसला : 19 साल पहले केस में दोषी सिद्ध हुए राम रहीम, अब आई सजा की बारी

- Advertisement -
- Advertisement -

जेल की सलाखों में कैद हरियाणा के डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम (Ram Rahim) को उस दौरान बड़ा झटका लगा है, जब सीबीआई कोर्ट ने रंजीत हत्या मामले में राम रहीम सहित पांच आरोपियों को दोषी करार दिया है। हालांकि इस मामले में कोर्ट उन्हें क्या सजा देगी इस बात का ऐलान नहीं हुआ है। ऐसा कहा जा रहा है कि सीबीआई की स्‍पेशल कोर्ट 12 अक्टूबर को सभी दोषियों की सजा सुनाएगी। इस हत्याकांड मामले में राम रहीम, कृष्ण लाल, सबदिल, अवतार और जसबीर को दोषी करार दिया गया है। जबकि इस मामले के एक अन्य आरोपी था इंदरसैन जिसकी मौत हो चुकी है।

26 अगस्त को होना था फैसला

रंजीत हत्या मामले में शुक्रवार को आरोपी डेरामुखी गुरमीत राम रहीम और कृष्ण कुमार वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश हुए। वहीं, आरोपी अवतार, जसवीर और सबदिल प्रत्यक्ष रूप से कोर्ट में पेश हुए। इस मामले में पहले सीबीआई कोर्ट 26 अगस्त को फैसला सुनाना था। 19 साल पुराने इस मामले में की आरिखी सुनवाई 12 अगस्त 2021 को हुई थी। सीबीआई जज डॉ. सुशील कुमार गर्ग की कोर्ट में करीब ढाई घंटे बहस के बाद आरोपियों को दोषी करार दिया गया। वैसे राम रहीम को इससे पहले सीबीआई जज रहे जगदीप सिंह ने सजा सुना चुके थे लेकिन उनका ट्रांसफर हो गया। उनकी जगह गर्ग ने ली है।

जानें क्या है पूरा मामला

यह मामला 2002 का है जब रंजीत सिंह की हत्या हुई थी। डेरा प्रबंधन को शक था कि रंजीत सिंह ने साध्वी यौन शोषण की गुमनाम चिट्ठी अपनी बहन से ही लिखवाई थी। इस मामले में सिरसा डेरा प्रमुख राम रहीम को आरोपी बनाया गया। इस मामले की सुनवाई कई बार टल चुकी। जबकि सीबीआई ने आरोपियों के खिलाफ 2003 में केस दर्ज किया था और 2007 में कोर्ट ने चार्ज फ्रेम किए थे। रंजीत सिंह डेरे का मैनेजर था।

आपको बता दें कि गुरमीत राम रहीम को साध्वियों से यौन शोषण के मामले में पहले ही 20 साल की सजा सुनाई जा चुकी है। इसके अलावा वह पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड में उम्रकैद की सजा काट रहे हैं।

इसे भी पढ़ें-कौन है जया भारद्वाज, स्टेडियम में खुलेआम खिलाड़ी दीपक चाहर ने कही दिल की बात

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -