कोरोना के नए रूप ने भारत में मचाई दहशत, 7 जनवरी तक ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों पर लगी रोक

41

नई दिल्ली। ब्रिटेन में सामने आए कोरोना संक्रमण के नए रूप (स्ट्रेन) ने भारत में भी घुसपैठ कर ली है। बीते दिनों ब्रिटेन से भारत आए यात्रियों में अब तक 20 लोगों में कोरोना का स्ट्रेन देखने को मिला है। सोमवार को जहां देश में सिर्फ छह लोग संक्रमण की चपेट में थे, वहीं मंगलवार को इनकी संख्या में इजाफा हुआ और संक्रमित मरीजों की संख्या 20 हो गई। इनमे से 8 रिपोर्ट्स दिल्ली के NCDC लैब में, 7 रिपोर्ट्स Nimhans और हैदराबाद की CCMB लैब में दो सैंपलों में नया स्ट्रेन मिला है। जबकि कोलकात्ता की की NIBG कल्याणी, पुणे की NIV और दिल्ली की IGIB लैब में एक-एक सैंपल कोरोना का नया स्ट्रेन देखने को मिला है। इन सभी कोरोना संक्रमितों को सम्बंधित प्रदेश सरकारों ने आइसोलेशन में अलग-अलग रखा गया है।

इसे भी पढ़ें: आरजेडी नेता श्याम रजक के इस दावे के बाद बढ़ी एनडीए की टेंशन, जेडीयू ने किया ख़ारिज

तो वहीं इन लोगों के संपर्क में जो भी लोग आए हैं उन्हें भी क्वारंटाइन के तहत रखा गया है। इसके आलावा यात्रा के दौरान को यात्री इन संपर्क में आये थे। परिवार से संपर्क आये लोगों को भी कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग शुरू की गई है। देश में कोरोना के नए स्ट्रेन मिलने के बाद भारत सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए ब्रिटेन से आनी वाली सभी फ्लाइट्स पर 7 जनवरी तक प्रतिबंध लगा दिया है। इससे पहले ये प्रतिबंध 31 दिसंबर तक ही था।

कोरोना का ये रुप इतना घातक है कि, लंदन सहित कई शहरों में ब्रिटेन में फिर से लॉक डाउन लगाया गया है। देश में ब्रिटेन से 25 नवंबर से 23 दिसंबर के बीच लगभग 33 हज़ार यात्री भारत के विभिन्न हवाईअड्डों पर पहुंचे हैं। अब संक्रमण के नए खतरे को देखते हुए इन सभी यात्रियों के बारे में पता लगाया जा रहा है। केंद्र और राज्य सरकार इन सभी की आरटी-पीसीआर जांच करा रही है। वहीं उत्तर प्रदेश से खबर है कि, करीब 565 यात्री लापता है।

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जब उनसे फ़ोन के मध्य से संपर्क करने की कोशिश की तो उनका फ़ोन बंद आ रहा है। जिससे अब संक्रमण का खतरा और बढ़ गया है। ब्रिटेन में फैले संक्रमण के नए रूप को देखते हुए अब मुश्किल ही लग रहा है कि, पीएम बोरिस जॉनसन भारत यात्रा पर आएंगे। उन्हें भारत सरकार ने गणतंत्र दिवस के मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर बुलाया है।

इसे भी पढ़ें: राजनाथ सिंह का चीन को सख्त संदेश, ड्रैगन की बखिया उधेड़ने के लिए तैयार है भारत, इसलिए..