पीएम की भतीजी को भाजपा ने नहीं दिया नगर निकाय का टिकट, दी यह बड़ी दलील

405
Sonal-Modi

अहमदाबाद। भारतीय जनता पार्टी में अहमदाबाद में होने वाले नगर निकाय चुनाव के लिए टिकट बंटवारे को लेकर बनाए गए नियम अब पार्टी नेताओं के परिजनों और रिश्तेदारों पर ही भारी पड़ते नजर आ रहे हैं। इन्हीं नए नियमों का हवाले देते हुए पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी सोनल मोदी तक को टिकट देने से इंकार कर दिया। उधर सोनल का कहना है कि उन्होंने पीएम कि भतीजी होने के नाते टिकट नहीं मांगा था बल्कि पार्टी कार्यकर्ता होने के तौर पर टिकट की मांग की थी।

इसे भी पढ़ें:-किसानों को लेकर अखिलेश ने फिर बोला हमला, कहा— खरबपतियों को फायदा पहुंचा रही भाजपा

अहमदाबाद में होने वाले आगामी नगर निकाय चुनाव के लिए भाजपा ने उम्मीदवारों कि सूची जारी कर दी गयी है,लेकिन उसमे पीएम की भतीजी सोनल का नाम नहीं है। पार्टी ने नए नियमों का हवाला देते हुए टिकट देने से इंकार कर दिया है। बता दें कि भाजपा की नगर इकाई ने हाल ही में घोषणा की थी कि इस बार नगर निकाय चुनाव में पार्टी के नेताओं के रिश्तेदारों और परिजनों को टिकट नहीं दिया जायेगा, जबकि प्रधानमंत्री को भतीजी अहमदाबाद नगर निगम के बोदकदेव वार्ड से पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ना चाहती थी, जिसके लिए उन्होंने पार्टी से टिकट की मांग की थी।

21 फरवरी को होना है चुनाव

इस बारे में पत्रकारों ने जब सोनल से बात की तो उन्होंने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री की भतीजी होने के नाते नहीं बल्कि भाजपा कार्यकर्ता की हैसियत से टिकट मांगा था। सोनल पीएम के भाई प्रह्लाद मोदी की बेटी हैं , जो शहर में ही राशन की दुकान चलाते हैं। वहीं इस बारे में राज्य इकाई के सीआर पाटिल ने कहा नियम सबके के लिये के बराबर है। गौरतलब है कि आगामी 21 फरवरी को गुजरात के राजकोट, अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत, भावनगर और जामनगर समेत कुल छह नगर निगमों के चुनाव के लिए मतदान होगा। जबकि 81 नगरपालिकाओं, 31 जिला पंचायतों और 231 तालुका पंचायतों के लिए 28 फरवरी को वोट डाले जाएंगे, जिसके लिए पार्टी ने उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है।

इसे भी पढ़ें:-बंगाल चुनाव: अमित शाह की जगह स्मृति ईरानी करेंगी हावड़ा में रैली, राजीव बनर्जी समेत TMC के 3 नेता थामेंगे भाजपा का झंडा