शराब और 7 लाख नकद के साथ महिला सरपंच गिरफ्तार, पति फरार

182
Indian-rupee

मुजफ्फरपुर। महिलाएं अपराध जगत में भी पुरुषों को कड़ी टक्कर दे रही हैं। इसी तरह का मामला बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के करजा थाना क्षेत्र से सामने आया है। यहां एक महिला सरपंच को शराब का व्यापार करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है, जबकि उसका पति फरार हो गया है। महिला सरपंच पर आरोप है कि उसके घर से अवैध शराब का कारोबार चलाया जा रहा था। मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जयंतकांत ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर बड़कागांव में करजा और सरैया पुलिस की ओर से चलाए गए संयुक्त अभियान में बड़कागांव उत्तरी की सरपंच सविता देवी और गांव में तीन अलग—अलग घरों में छापेमारी की कार्रवाई की गई। इस दौरान पुलिस को बड़ी मात्रा में शराब बरामद हुई है। वहीं सरपंच के घर में छिपाकर रखे गए नकदी भी बरामद किए गए हैं।

इसे भी पढ़ें: संजय राउत कल तक दिखा रहे थे तेवर, आज पत्नी के लिए ईडी से मांगा समय

जानकारी देते हुए करजा थाना प्रभारी सरोज कुमार ने बताया कि कल यानी सोमवार को करजा थाने में इस मामले की एक प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। इस प्राथमिकी में महिला सरपंच सविता देवी, उनके पति उमेश सहनी, चंदेश्वर सहनी और सरस्वती कुंवर सहित अन्य को आरोपी बनाया गया है। उन्होंने कहा कि छापेमारी के दौरान उमेश सहनी के घर से 11 कार्टन मतलब कुल 99 लीटर विदेशी शराब तथा 70 लीटर देशी शराब की बरामदगी हुई है। इतना ही नहीं उमेश सहनी की पत्नी सविता देवी के कमरे में झोला में रखें सात लाख से अधिक रुपए बरामद किए गए हैं।

पुलिस ने कहा है कि महिला सरपंच ने पूछताछ में शराब क्रय—विक्रय का पैसा होने की बात स्वीकार की है। जबकी छापेमारी की भनक लगते ही चंदेश्वर सहनी, सरस्वती कुंवर व उमेश सहनी मौके से फरार हो गए। पुलिस फरार आरोपियों की तलाश कर रही है। ज्ञात हो कि बिहार में शराब की बिक्री और सेवन पर पूरी तरह से प्रतिबंध है।

इसे भी पढ़ें: भारत में भी कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की हुई एंट्री, ब्रिटेन से लौटे 6 यात्री मिले संक्रमित