अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने सदैव अटल समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की

68

नई दिल्ली। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 96वीं जयंती पर आज उनके स्मारक ‘सदैव अटल’ पर जन्म दिवस कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित अटल बिहारी वाजपेयी के परिवारजनों ने पूर्व प्रधानमंत्री को पुष्पांजलि अर्पित की। गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को सदैव अटल समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की।

इसे भी पढ़ें: यूपी पुलिस का शर्मनाक चेहरा, सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता से दरोगा ने किया रेप

वहीं पंडित मदन मोहन मालवीय और अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती के मौके पर संसद के सेंट्रल हाउस में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया है, जहां इन दोनों लोगों को श्रद्धांजलि दी जाएगी। कार्यक्रम सुबह 10.30 बजे सेंट्रल हॉल में शुरु हो गया है। वहीं इस कार्यक्रम के समाप्त होने के बाद पीएम मोदी “संसद में अटल बिहारी वाजपेयी: एक स्मृति खंड” नामक पुस्तक का विमोचन भी करेंगे। जानकारी के मुताबिक लोकसभा सचिवालय की ओर से प्रकाशित इस पुस्तक में अटल जी के जीवन पर प्रकाश डालने सहित संसद में उनके द्वारा दिए गए उल्लेखनीय भाषण को भी शामिल किया गया है। इतना ही नहीं इस पुस्तक में अटल जी के सार्वजनिक जीवन से जुड़ी कुछ दुर्लभ तस्वीरें भी हैं। कार्यक्रम में लोकसभा के स्पीकर ओम बिडला, केन्द्रीय मंत्री, संसद सदस्य, संसद के पूर्व सदस्य सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

बताते चलें कि अटल बिहारी वाजपेयी एक कवि, पत्रकार, संघ के कार्यकर्ता के तौर पर लगातार विजय पथ की तरफ बढ़ते हुए पहली बार वर्ष 1957 में लोकसभा चुनाव जीतकर संसद पहुंचे थे। वह 10 बार लोकसभा और दो बार राज्यसभा के सदस्य चुने गए। अटल बिहारी वाजपेयी उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश और गुजरात से भी सांसद रहे। उन्होंने वर्ष 1991 से अपने अंतिम चुनाव (2004 ) तक लखनऊ लोकसभा का प्रतिनिधित्व किया था।

इसे भी पढ़ें: किसानों से धोखा करने वालों को सीएम योगी ने चेताया, कहा- धोखेबाजी की तो जेल होगा ठिकाना