Saturday, October 16, 2021

कश्मीर में आतंकियों का सफाया करने के लिए अमित शाह ने भेजी आतंक-रोधी एक्सपर्ट्स की टीम

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली। कश्मीर घाटी में आतंकियों ने डर का माहौल बनाने के लिए अल्पसंख्यक हिन्दुओं को चुन चुनकर मारना शुरू कर दिया है। लगातार निहत्थों को निशाना बनाया जा रहा है। इसे देखते हुए टॉप आतंक-रोधी एक्सपर्ट्स को केंद्र सरकार ने कश्मीर भेजा है। जो राज्य की पुलिस के साथ मिलकर आतंकियों का सफाया करने में मदद करेंगे। श्रीनगर के ईदगाह इलाके में गुरुवार को सरकारी स्कूल में हए आतंकी हमले में दो लोगों की मौत के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बैठक की। जो करीब पांच घंटे तक चली। घाटी में पिछले 5 दिनों में हुए आतंकी हमलों में पाकिस्तान के लश्कर-ए-तैयबा समर्थित द रेजिस्टेंस फोर्स का हाथ है। एक्सपर्ट्स के साथ अमित शाह की हुई बैठक के बाद तय किया गया कि आतंकियों का सफाया करने के लिए सुरक्षा एजेंसियों से आतंक रोधी एक्सपर्ट्स की टीम घाटी भेजी जाएगी।

इसे भी पढ़ें : लखीमपुर खीरी हिंसा : पुलिस को आशीष मिश्रा के खिलाफ मिला अहम सबूत! आरोपी की मुश्किलें बढ़ना तय

केंद्रीय गृह मंत्री के आदेश के बाद शुक्रवार को कश्मीर के लिए इंटेलिजेंसी ब्यूरो के आतंक-रोधी अभियानों के प्रमुख तपन डेका रवाना हो रहे हैं। जो खुद आतंकियों के खिलाफ चल रहे अभियानों की निगरानी करेंगे। इस बीच खबर आ रही है कि, राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसियों की अन्य आतंक रोधी दस्ते कश्मीर पहुंच चुके हैं। कोरोना का खतरा कम होते ही बड़ी संख्या में लोग कश्मीर का रुख कर रहे हैं। इन दिनों सभी होटल घाटी के फुल चल रहे हैं और ऐसे में आतंकी आम लोगों की निशाना बनाकर घाटी में डर का माहौल बनाना चाहते हैं।

बताया जा रहा है कि पिछले दिनों घाटी में हुए हमलों में आतंकियों ने पिस्टल का इस्तेमाल किया है। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि पाकिस्तान की ओर से ड्रोन की मदद से घाटी में हथियार गिराए जा रहे हैं। पाकिस्तान की कोशिश है कि घाटी में आतंकी हमलों को बढ़ाकर लोगों में डर पैदा किया जा सके और मोदी सरकार पर भी दबाव बनाया जा सके। सुरक्षा एजेंसियों और अर्द्धसैनिक बलों को गृह मंत्री अमित शाह ने निर्देश दे रखे हैं कि, वो आतंकियों सफाया बिना किसी देरी के करें, जिससे घाटी में शांति स्थापित हो।

इसे भी पढ़ें : जम्मू कश्मीर : आतंकियों के निशाने पर हिंदू, स्कूल में बरसाई गोलियां, दो शिक्षकों की हुई मौत

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -