पबजी के चक्कर में 12 साल के बच्चे की हत्या, घर से तीन किलोमीटर दूर मिला शव

396
PUBJI

नई दिल्ली। कर्नाटक क मंगलुरु इलाके में ऑनलाइन गेम पबजी के चक्कर में एक 12 साल के बच्चे की मौत हो गयी। घटना की जानकारी पुलिस को तब हुई जब एक दिन पहले ही बच्चा घर से लापता हो गया था, जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट थाने में दर्ज थी। बच्चे का शव उसके घर से तीन किलोमीटर दूर मिला। बच्चे की लाश मिलने से परिजनों में हड़कंप मच गया। वहीं इलाके में सनसनी फ़ैल गयी।

मामले की जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि कर्नाटक में मंगलुरु के उल्लाल पुलिस स्टेशन अंतर्गत ऑनलाइन गेम पबजी खेलने के चक्कर में दीपक (17-18 वर्ष) के लड़के के साथ हुई लड़ाई के बाद एक 12 साल के बच्चे मोहम्मद अफीक की मौत हो गई। यह दोनों लड़के करीब तीन महीने पहले एक मोबाइल शॉप पर मिले थे और अक्सर एक-दूसरे के साथ पबजी खेलने खेलते थे।

सिर में लगी चोट से हुई मौत

पुलिस अधिकारी शशि कुमार ने घटना की जानकारी देते हुए बताया के शनिवार की रात लगभग 9 बजे दीपक और अकीफ एक साथ साथ बैठकर गेम खेलने लगे। दीपक को संदेह था कि अफीक के नाम पर कोई और व्यक्ति है जो बेहतर गेम खेलता है। आमने-आमने बैठकर खले गए गेम में अकीफ हार गया। इस पर दीपक उसे चीटर कहकर चिढ़ाने लगा। दीपक के चीटर कहने से अफीक को गुस्सा आया और उसने दीपक को पत्थर फेंककर मार दिया। इस पर दीपक ने गुस्से में पलटवार किया और अफीक को पत्थर फेंककर मारा। पत्थर लगने से अफीक के सिर से खून बहने लगा और उसकी जान चली गई।

बच्चा PUBG का आदी था

पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना की जानकारी पुलिस और परिजनों को तब हुई जब अफीक कल शाम अचानक लापता हो गया और देर रात तक घर नहीं आया। इसके बाद परिजनों ने स्थानीय थाने में बच्चे की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस घटनास्थल का दौरा कर पुलिस सबूत जुटाने का प्रयास कर रही है। वहीं यह भी कहा जा रहा है कि बच्चा PUBG का आदी था।

इसे भी पढ़ें:-नंदीग्राम में फांसी के फंदे पर लटका मिला भाजपा नेता का शव, टीएमसी पर लगा हत्या का आरोप