इन चीजों को आज ही कर दें घर से बाहर, मां लक्ष्मी करेंगी तब आपके घर में वास

177

दीपों के उत्सव दीपावली (Deepawali) का त्यौहार भारत में काफी धूम धाम से मनाया जाता है, बाजार से लेकर घर में कई रौनक रहती है। दिवाली कार्तिक मास की अमावस्या वाले दिन मनाया जाता है। ‘अंधकार पर प्रकाश की विजय’ का उत्सव इस वर्ष 14 नवंबर को मनाया जायेगा। दिवाली के दिन मां लक्ष्मी घर में आकर वास करें इसके लिए उनके आगमन को लेकर हर घर में तैयारियां की जाती हैं। वहीं दिवाली की तैयारियों के दौरान कुछ बातों का विशेष ध्यान भी रखना चाहिए। जिससे घर में वास्तु दोष को दूर किया जा सके।

अंधकार पर प्रकाश की विजय का प्रतीक-पर्व है दीपावली - Nationalist Online

घर में अगर टूटा हुआ दर्पण (Mirror) है तो उसे दिवाली की सफाई के दौरान घर के बाहर ही निकाल दें। वास्तु शास्त्र (Vaastu Shaastra) के अनुसार, टूटा हुआ दर्पण घर में रखने से नकारात्मक ऊर्जा रहती है। वहीं अगर आपके घर में टूटा हुआ फर्नीचर रखा हुआ है तो उसे भी इस दिवाली घर से बाहर निकाल दें, घर में रखा टूटा फर्नीचर भी वास्तु के हिसाब से अशुभ माना जाता है।

An antique mirror damaged by bullets in the Serdán home, now the Museum of  the Mexican Revolution. | Puebla, Mexican revolution, Museum

दिवाली की साफ सफाई के दौरान अगर आपको घर में देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियां, फोटो मिलती हैं तो उन्हें किसी पवित्र स्थान पर दबा दें। वहीं घर में रखे टूटे बर्तन भी कलह की वजह माने जाते हैं इसलिए इस दिवाली ऐसे बर्तनों को भी बदल लें। आप धनतेरस (Dhanteras) के दिन नए बर्तन जरूर खरीदें।

किचन के बर्तन भी बदल सकते हैं आपका भाग्य, जानिए कैसे – dailyindia

जिन जूते-चप्पलों का इस्तेमाल आप नहीं करते हैं, जो पुराने हो चुकें हैं या जो फटे हुए है। उन्हें आप घर से बाहर कर दें, इनसे घर में नकारात्मकता आती है।

इस रंग के जूते चप्पल पहनने से हो सकते हैं आप गरीब!

अगर घर की दीवार या फिर टेबल पर रखी घड़ी बंद पड़ी है या फिर टूटी हुई है तो उसे बदल लें। घड़ी प्रगति का प्रतीक है उसका बंद हो जाना शुभ नहीं है। घर में मौजूद इलेक्ट्रोनिक सामान ख़राब है तो उसे भी बनवा लें या उसे बाहर निकाल दें। घर की छत को भी हमेशा साफ़ ही रखें उसमे कूड़ा न जमा होने दें।

Damage Control: Saving Yourself From Bad Situations | Watch Trading Academy

इसे भी पढ़ें: पढ़ाई में अगर नहीं लगता है बच्चे का मन तो अपनाएं ये वास्तु टिप्स