ब्रिटेन में पाकिस्तान को लगा 450 करोड़ रुपए का भारी जुर्माना, उच्चायोग के खातों से होगी वसूली

209

ब्रिटेन की हाई कोर्ट ने पाकिस्तान को बड़ा झटका देते हुए उस पर 450 करोड़ रुपए का भारी जुर्माना लगाया है। कोर्ट ने ने लंदन में पाकिस्तानी उच्चायोग के बैंक खातों से राशि वसूलने का आदेश दिया है। कोर्ट ने ये भारी जुर्माना राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (NAB) ने विदेशी संपत्ति वसूली कंपनी ब्रॉडशीट LLC को भुगतान न किए जाने की वजह से लगाया था। ब्रिटेन की कोर्ट द्वारा लगाए गए भारी जुर्माने की खबर की पुष्टि पाकिस्तानी मीडिया ने की है। पाकिस्तान के अंग्रेजी अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार, कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश के बाद यूनाइटेड बैंक लिमिटेड यूके ने पाकिस्तान उच्चायोग को 29 दिसंबर को एक पत्र लिखा है।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान में हर साल एक हजार से ज्यादा लड़कियों को जबरन कबूल कराया जाता है इस्लाम

इस पत्र में बैंक ने अनुरोध किया है कि, वे 2 करोड़ 87 लाख 6 हजार 533 डॉलर के भुगतान (जुर्माना) के हाई कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए। डेबिट बैंक अकाउंट की जानकारी के साथ लिखित भुगतान का निर्देश प्रदान करें। पाकिस्तानी उच्चायोग को बैंक ने ये भी बताया है कि, लिखित पेमेंट के निर्देश अगर 30 दिसंबर तक उन्हें नहीं मिलते हैं तो कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश के बाद निर्धारित भुगतान (जुर्माना) की राशि को वसूलने के लिए उच्चायोग के बैंक अकाउंट्स से एकतरफा निकासी करने के अतिरिक्त कोई दूसरा विकल्प नहीं बचेगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, NAB की करीब 450 करोड़ की राशि UBL लंदन के एक बैंक खाते में थी। ये खाता पाकिस्तानी उच्चायोग के नाम से ब्रिटेन में चल रहा है। ब्रिटेन हाई कोर्ट के आदेश के अनुसार, पाकिस्तानी उच्चायोग पर लगाए गए जुर्माने की समय सीमा 31 दिसंबर 2020 को पूरी हो गई है। हालांकि अब तक ये राशि पाकिस्तानी उच्चायोग के बैंक खाते से काटी नहीं गई है। इसके बारे में पाकिस्तानी विदेश कार्यालय के अधिकारियों ने मीडिया से बात करते हुए बताया है।

इसे भी पढ़ें: शेयर कारोबार में गड़बड़ी, मुकेश अंबानी और रिलायंस पर SEBI की बड़ी कार्रवाई, लगाया करोड़ों का जुर्माना