Saturday, October 16, 2021

हादसा : नाव पलटने से 100 से ज्यादा लोग नदी में डूबे, 51 शव बरामद, राहत बचाव कार्य जारी

- Advertisement -
- Advertisement -

कांगो। शनिवार को लोकतांत्रिक गणराज्य (डीआरसी) कांगो में एक बड़ा हादसा हो गया। नाव पलटने से 100 से भी ज्यादा लोग नदी में डूब गए, जिसमे से अब तक 51 शवों को निकाला जा चुका है। हादसे को लेकर मोंगाला प्रांत के गवर्नर के प्रवक्ता नेस्टर मैगबाडो ने बताया है कि नाव में सवार 60 लोग अभी भी लापता हैं। जबकि 39 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है। बताया जा रहा है कि नाव में यात्रियों को सवार करने से पहले उनकी गिनती नहीं की गई थी, जिस वजह से यह सब तक साफ़ नहीं हो पाया है कि हादसे का शिकार कितने लोग हुए हैं।

इसे भी पढ़ें : विधानसभा चुनाव 2022 : अयोध्या, काशी, मथुरा में जारी काम को लेकर मायावती ने किया बड़ा ऐलान

नाव दुर्घटनाएं आम बात
नेस्टर मैगबाडो का कहना है कि नाव दुर्घटनाएं कांगो में होना आम बात है। इसकी सबसे बड़ी वजह है कि अक्सर नाव में क्षमता से ज्यादा यात्री सवार होना। इस वजह से नाव का संतुलन बीच नदी जब बिगड़ता है तो हादसा हो जाता है। मैगबाडो बताते हैं कि नाव में सवार ज्यादातर लोग सुरक्षा जैकेट नहीं पहनते हैं। नाव जब हादसे का शिकार होती है तो ज्यादातर वही लोग डूबते हैं, जिन्होंने सुरक्षा जैकेट न पहना हो और उन्हें तैरना भी न आता हो।

माई-नदोम्बे प्रांत में कांगो नदी में फरवरी माह ही नाव पलटने से 60 लोगों की मौत हो गई थी। इस नाव में 700 से ज्यादा यात्री सवार थे। हादसे की जब जांच कराई गयी तो सामने आया कि नाव में क्षमता से काफी ज्यादा यात्री सवार थे, जिसकी वजह से हादसा हुआ।

तीन दिनों का शोक
मोंगाला प्रांत के गवर्नर के प्रवक्ता ने बताया है कि नदी में डूबे लोगों की तलाश में राहत और बचाव कार्य जारी है। बढ़ते समय के साथ हादसे के शिकार हुए लोगों के मिलने की उम्मीद भी कम होती जा रही है। कांगो में सोमवार से तीन दिन के शोक की घोषणा प्रांतीय अधिकारियों ने की है।

इसे भी पढ़ें : मुख्यमंत्री ने घटना पर जताया दुख, अधिकारियों को दिए पीड़ितों के परिजनों को सहायता के निर्देश

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -