दुनिया को कोरोना बांटने वाले चीन को डरा रहा है पोल खुलने का डर, अब जांच टीम को आने रोका

34

नई दिल्ली। दुनिया में तबाही मचा रहे कोरोना संक्रमण को लेकर काफी कुछ अभी सामने आना बाकी है। चीन के वुहान शहर में जन्मे संक्रमण की सच्चाई अब तक छुपी हुई है। संक्रमण को लेकर अब तक सच्चाई दुनिया के सामने नहीं आई है और जब विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की टीम विकसित देशों के दबाव चीन जाकर संक्रमण की उत्पत्ति को लेकर जांच करना चाहती है तो ड्रैगन को डर सताने लगा है कि, कहीं राज न खुल जाये, जिसकी वजह से वो अब इस जांच को रोकने की कोशिशों में जुट गया है। दुनिया के सामने एक सवाल अब तक बना हुआ है कि, आखिर संक्रमण की उत्पत्ति कैसे हुई। जब WHO की टीम ने चीन जाने की अनुमति मांगी तो टीम के सदस्यों को अब तकमंजूरी नहीं मिली है।

इसे भी पढ़ें: ISRO के वैज्ञानिक ने किया सनसनीखेज दावा- तीन बार मुझे मारने की हुई कोशिश, देश मुझे और मेरे परिवार को बचा ले

चीन की इस हरकत पर WHO के महानिदेशक टेड्रोस एडनोम ग्रेबेसियस नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि, उन्होंने चीनी अधिकारियों को फ़ोन करके टीम के सदस्यों को अनुमति देने के लिए कहा था। उनका कहना है कि, टीम के दो सदस्य अपनी यात्रा शुरू कर चुके हैं, जबकि अन्य सदस्यों को अंतिम वक़्त में ही यात्रा नहीं करने दी जा रही है। टेड्रोस का कहना है कि, चीन के वरिष्ठ अधिकारियों से मैं संपर्क में हूं और मैंने उन्हें ये साफ़ कर दिया है कि, WHO और अंतर्राष्ट्रीय टीम की प्राथमिकता में ये मिशन है।

WHO के महानिदेशक का कहना है कि, हम जल्द से जल्द चीन पहुंचकर मिशन पूरा करना चाहते है। इस दौरान दुनियाभर के विशेषज्ञ वुहान पहुंच सकते हैं। जहां करीब एक वर्ष पहले कोरोना संक्रमण का पहला मामला सामने आया था। दुनिया भर में कोरोना के अब तक 8 करोड़ 68 लाख से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं जबकि 6 करोड़ 62 लाख से ज्यादा केस रिकवर हो चुके हैं। वहीं 18 लाख 77 हज़ार से ज्यादा लोग संक्रमण की वजह से अपनी जान गंवा चुके हैं।

इसे भी पढ़ें: सोनिया गांधी और मायावती को भारत रत्न देने की कांग्रेस नेता ने की मांग, भड़की बसपा