spot_img
Saturday, September 18, 2021

अमेरिका काबुल भेजेगा 6 हजार सैनिक, इस मिशन के तहत होगी तैनाती

- Advertisement -
- Advertisement -

काबुल। अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के शासन ने तालिबानी लड़ाकों के सामने घुटने टेक दिए हैं। इस बीच काबुल स्थिति अमेरिकी दूतावास पूरी तरह से खाली हो चुका है। फिलहाल काबुल एयरपोर्ट से दूतावास से सम्बंधित सभी जरूरी काम किए जाएंगे। अमेरिका के आलावा फ्रांस सहित कई देशों ने काबुल एयरपोर्ट पर ही अपने दूतावास बना लिए हैं। अमेरिका अफगानिस्तान में बिगड़ते हुए हालात को देखते हुए अपने 6 हजार सैनिक काबुल एयरपोर्ट पर तैनात करेगा। इसका मकसद अमेरिकी नागरिकों, मित्र देशों और सहयोगियों की सुरक्षित वापसी है।

इसे भी पढ़ें : तालिबान ने भारत को दी चेतावनी, कहा – अफगानिस्तान में अगर सेना भेजी तो

शक्तिशाली पदों पर आसीन लोग लें मानवीय जीवन की जिम्मेदारी – UN
अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन सहयोगी देशों के विदेशमंत्रियों के साथ अफगानिस्तान के ताजा हालतों को लेकर बातचीत की है लेकिन इसमें भारत शामिल नहीं है। यूरोपीय संघ के नेतृत्व में 60 से ज्यादा देशों और अमेरिका ने संयुक्त बयान जारी किया है, जिसमे अफगानिस्तान में शक्तिशाली पदों पर बैठे लोगों से आग्रह किया गया है कि वे मानवीय जीवन और संपत्ति की रक्षा की जिम्मेदारी और जवाबदेही लें। आम लोगों की सुरक्षा और असैन्य व्यवस्था की बहाली के लिए तत्काल कोई कदम उठाएं।

48 घंटों में तैनात होंगे 6000 अमेरिकी जवान
अमेरिकी विदेश और रक्षा मंत्रालय ने भी साझा बयान जारी करते हुए कहा है कि ‘ हम हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे की सुरक्षा के लिए अनेक कदम उठा रहे हैं, जिससे सैन्य और असैन्य विमानों के जरिए अमेरिकी लोग और उनके सहयोगी अफगानिस्तान से सुरक्षित बाहर निकल सकें। इसके साथ यह भी कहा गया है कि आगामी 48 घंटों में लगभग छह हजार से सुरक्षाकर्मियों को एयरपोर्ट पर तैनात किया जाएगा, जिनका मिशन लोगों को सुरक्षित देश से बाहर निकालने का होगा। जो अपने कब्जे में हवाई यातायात नियंत्रण को भी लेंगे। आने वाले दो दिनों में हम हजारों अमेरिकी नागरिकों, काबुल में अमेरिकी मिशन पर तैनात स्थानीय लोगों और उनके परिवारों को देश से निकालेंगे।

इसे भी पढ़ें : सत्ता में लौटा तालिबान, अशरफ़ ग़नी युग का अफगानिस्तान में हुआ अंत

- Advertisement -
spot_img
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -