उत्तराखंड में मची तबाही के बाद यूपी में अलर्ट जारी, सीएम योगी ने डीएम-एसपी को दिए ये निर्देश

703

लखनऊ। उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर फटने के बाद आई तबाही को देखते हुए उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन सभी जिलों के अधिकारियों और और पुलिस अधीक्षकों को अलर्ट पर रहने के लिए कहा है। जो गंगा नदी के किनारे बसे हुए हैं। सीएम ने प्रदेश के सभी सम्बंधित विभागों को मुस्तैद रहने के निर्देश देते हुए कहा है कि, हालात पर नजर बनाएं रखें। एसडीआरएफ को भी अलर्ट मोड पर रखा गया है। सीएम योगी ने इस चुनौती पूर्ण समय में हर संभव मदद उत्तराखंड को करने का निर्देश अधिकारियों को दिया है।

इसे भी पढ़ें: उत्तराखंड में ग्लेशियर फटने से मची भीषण तबाही, सैलाब में बहे 50 लोग

गौरतलब है कि, चमोली जिले के रैणी में रविवार सुबह ग्लेशियर फट गया। इसके बाद ही धौली नदी में भीषण बाढ़ आ गई। इस दौरान जो भी इसके बीच में आया उसके पानी की तेज धार अपने साथ बहाते हुए ले गई। ग्लेशियर फटने की वजह से हरिद्वार बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। वहीं बिजनौर जिले में गंगा नदी में बाढ़ का खतरा हो सकता है। इसे देखते हुए निर्देश दिए गए हैं कि, गंगा नदी के आसपास रहने वालों को ये सूचित कर दिया जाये कि, सभी लोग गंगा किनारे न जाएं और सतर्क रहें।

उत्तर प्रदेश में गंगा किनारे बसे जिले कन्नौज, बिजनौर, कानपुर, उन्नाव, फतेहगढ़, प्रयागराज, मिर्जापुर, गढ़मुक्तेश्वर, वाराणसी और गाजीपुर में अलर्ट जारी किया गया है। अधिकारियों ने गंगा नदी के किनारों पर दौरा करना शुरू कर दिया है। रिपोर्ट्स के अनुसार, आज शाम तक नदी में कई लाख क्यूसेक पानी बढ़ जायेगा। गौरतलब है कि, ग्लेशियर फटने से जोशीमठ में डैम भी टूट गया है। इससे धौली नदी में बाढ़ आ गई है, जिसने पूरे उत्तराखंड में तबाही मचाई हुई है।

इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि, मोदी सरकार इस कठिन समय में उत्तराखंड की जनता के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी हुई है। मौके पर NDRF, ITBP और SDRF की टीमें वहां पहुंच गई हैं, वहीं वायुसेना को भी अलर्ट मोड पर रखा गया है।

इसे भी पढ़ें: क्राइम ब्रांच की टीम ने अभिनेत्री को किया गिरफ्तार, एडल्ट वीडियो बनाकर अपलोड करने का आरोप