महंगा पेट्रोल बेच रही सरकार कम करेगी बीयर के दाम, राजस्व बढ़ाने के लिए अधिकारियों ने तैयार की नई नीति

85
Government selling expensive petrol

नई दिल्ली। देश में सबसे महंगा पेट्रोल राजस्थान में बिक रहा है, जिसकी वजह से उस पर महंगाई का बोझ पड़ रहा है। इस बोझ को कम करने के स्थान पर राज्य सरकार शराब के रेट कम करने की तैयारी कर रही है। मौजूदा वर्ष में राज्य में शराब महंगी नहीं बल्कि सस्ती होगी। रिपोर्ट्स के मुताबिक बीयर के दाम 30 से 35 रुपए कम होंगे। कोरोना महामारी की वजह से राज्य में पर्यटकों की संख्या काफी कम हुई है। सूबे की टूरिज्म इंडस्ट्री को दोबारा पटरी पर लाने के लिए आबकारी नीति में सरकार कुछ बदलाव करने वाली है।

इसे भी पढ़ें: उत्तराखंड में मची तबाही के बाद यूपी में अलर्ट जारी, सीएम योगी ने डीएम-एसपी को दिए ये निर्देश

अधिकारियों को उम्मीद है कि, बीयर के रेट कम होने से उसकी बिक्री भी बढ़ेगी। नए दाम 1 अप्रैल से लागू होंगे। राज्य सरकार ने अगले वित्तीय वर्ष में 13 हज़ार करोड़ रुपए के राजस्व का आबकारी लक्ष्य रखा है। राज्य सरकार ने भारत में बनी हुई अंग्रेजी शराब और बीयर पर लगने वाली वेंड फीस खत्म ही कर दी है। इसके आलावा बीयर पर अतिरिक्त आबकारी ड्यूटी में भी दस प्रतिशत की कमी कर दी गई है। अब शहरों में भी गांव की तरह ही देसी और अंग्रेजी शराब एक दुकान पर बिकेगी। आबकारी ड्यूटी में कमी करने के साथ बीयर पर लग रहे 20 रुपए का कोविड सरचार्ज भी हटा दिया गया है।

इंडियन मेड फॉरेन लिकर और बीयर की दुकानों पर शहरी क्षेत्रों में जो वार्षिक लाइसेंस फीस थी, उसे भी खत्म कर दिया गया है। एडवांस में शराब लाइसेंस के लिए जो फीस लगती थी उसके 14.5 प्रतिशत से घटाकर 8 प्रतिशत कर दिया गया है। राज्य में हर बीयर की हर पेटी पर रिटेलर काे 39 रुपए और देसी शराब पर 79 रुपए की वेंड फीस लगती थी। बियर की एक बोतल पर करीब तीन रुपए की अब कमी आएगी। सभी अलग-अलग कटौतियों के बाद बीयर के दामों में करीब 30 से 35 रुपए की कमी दर्ज की जाएगी।

इसे भी पढ़ें: बेटी की कुल्हाड़ी से काटकर पिता ने की हत्या, दहशत में लोग