पीएम मोदी का ‘मास्टर स्ट्रोक’ बिहार को दी 7 विकास परियोजनाओं की सौगात

33
-pm-modi

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव के पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य को बड़ी सौगात देते हुए कोरोना काल में खजाना खोल दिया है। कोरोना और बाढ़ जैसी विभीषिका झेल रहे बिहार के लिए योजनाओं की बहार आ गई है। इसी कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राज्य में शहरी इंफ्रास्ट्रक्टर से जुड़े 7 महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन और शिलान्यास किया है। जानकारी के मुताबिक इन परियोजनाओं की लागत करीब 541 करोड़ रुपए है। प्रधानमंत्री ने इन योजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया है। इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़ें: कोरोना संकट: डीजीपी ने पुलिस मुख्यालय के कर्मचारियों को दिया Work From Home का आदेश

शिलान्यास के दौरान आधारभूत संरचनाओं के विकास की अनदेखी किए जाने को लेकर प्रधानमंत्री ने आरजेडी और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए घोटालों के लिए जिम्मेदार बताया। इस दौरान पीएम मोदी ने कोरोना महामारी से बचने के लिए जरूरी एहतियात बरतने की अपील की है। इसके साथ ही इंजीनियर्स डे का जिक्र करते हुए उन्होंने देश के विकास में बिहार के इंजीनियर्स के योगदान को भी याद करते हुए सराहा। प्रधानमंत्री ने आज जिन परियोजनाओं की शुरुआत की है उनमें चार परियोजनाएं जल आपूर्ति से, दो सीवरेज ट्रीटमेंट के लिए और एक रिवर फ्रंट डेवलपमेंट से जुड़ी है।

इतना ही नहीं उम्मीद जताई जा रही है कि केंद्रीय मंत्रिमंडल की ओर से राज्य के लिए आईआईएम को भी मंजूरी दी जा सकती है। गौरतलब है कि इससे दो दिन पहले, पीएम मोदी ने बिहार में 900 करोड़ रुपए की लागत के पेट्रोलियम परियोजनाओं का उद्घाटन किया था। इन परियोजनाओं में पारादीप-हल्दिया-दुर्गापुर पाइपलाइन परियोजना का दुर्गापुर-बांका खंड और बांका और चंपारण जिलों में दो एलपीजी बॉटलिंग संयंत्र शामिल हैं। ज्ञात हो कि बिहार में विधानसभा चुनाव के तारीखों का एलान इसी महीने होने की संभावना है। कोरोना संकट के चलते अक्टूबर या नवंबर के आसपास चुनाव कराए जा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: चीन मुद्दे पर बोले राजनाथ, हम किसी भी परिस्थितियों से निपटने को तैयार