बंगाल हिंसा पर पीएम मोदी ने जताई चिंता, सुप्रीम कोर्ट में उठी सीबीआई जांच की मांग

623

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद शुरू हुई राजनीतिक हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। राज्य में जैसे ही चुनावी नतीजें घोषित हुए तो हिंसा भड़क गई। निशाने पर विपक्ष के नेता है। इस दौरान जमकर राज्य में हिंसक झड़प हो रही हैं तो वहीं दुकानों में लूट, घरों पर पथरबाजी, तोड़फोड़ और आगजनी की जा रही है। राज्य में 24 घंटे के अंदर ही कई बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई है। वहीं कई घायल हैं। राज्य में कानून व्यवस्था बिल्कुल चौपट चुकी है।

इसे भी पढ़ें:- दिल्ली सरकार का बड़ा ऐलान, टैक्सी-ऑटो चालकों को मिलेगी 5000 की मदद, दो माह मिलेगा मुफ्त राशन

बीजेपी के स्थानीय नेता और कार्यकर्त्ता दिल्ली फ़ोन करके पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मदद मांग रहे हैं। इस बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को फोन बात की है और राज्य के मौजूदा हालात पर चिंता और दुख जताया है। पीएम मोदी से बात करने के बाद राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने ट्वीट करके बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी ने बंगाल हिंसा पर आज फ़ोन पर बात कर चिंता व्यक्ति की है।

वहीं बंगाल में बढ़ती हुई हिंसा का मामला देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। बीजेपी के प्रवक्ता और वकील गौरव भाटिया ने कोर्ट में याचिका दायर की है, जिसमे ये मांग की है कि राज्य में हो रही हिंसा की सीबीआई जांच हो। राज्य में हो रही हिंसा को लेकर प्रदेश सरकार से केंद्रीय गृह मंत्रालय ने विपक्षी कार्यकर्ताओं पर हमले की घटना में तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है।

बंगाल हिंसा को लेकर कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। जिसमे लोग चीखते चिल्लाते हुए देखे जा सकते हैं। कई लोग दुकानों से कपड़े लूट रहे है। तो कहीं पत्थर चलाते हुए और बम चलाते हुए देखे जा रहे हैं। सोशल मीडिया पर मांग हो रही है कि राज्य में राष्ट्रपति शासन लगे। वहीं ममता बनर्जी ने राज्य में लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

इसे भी पढ़ें:- हाईकोर्ट की फटकार के बाद नीतीश सरकार ने 15 मई तक लगाया लॉकडाउन