आतंकियों को पालने वाले पाकिस्तान ने UNSC में RSS और हिंदुत्व को बताया खतरा

64

नई दिल्ली। दुनिया में दहशत फ़ैलाने वाले आतंकियों को पैदा करने वाले पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (RSS) और हिंदुत्व को बड़ा खतरा बताया है। ओसामा बिन लादेन, मसूद अजहर, हाफिज सईद, दाऊद इब्राहिम जैसे आतंकियों को संरक्षण और ऐशोआराम की ज़िंदगी देने वाला पाकिस्तान आतंकियों के लिए किसी स्वर्ग से काम नहीं है। दुनिया इस बात को बखूबी जानती है और देख भी रही है, लेकिन उसने अब RSS और हिंदुत्व पर सवाल उठा दिए हैं और अंतरराष्ट्रीय शांति-सुरक्षा के लिए इन्हे खतरा बताया है। पाकिस्तानी राजदूत मुनीर अकरम ने संयुक्त राष्ट्र में 15 सदस्यीय सुरक्षा परिषद से कहा है कि, हिंसक चरमपंथी वर्चस्ववादी समूहों को आतंकवादी संगठनों की तरह उन पर भी रोक लगा देनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: कर्नाटक मंत्रिमंडल विस्तार से पहले बीजेपी में मचा घमासान, CM येदियुरप्पा की खुल गई  सारी पोल 

हमेशा आतंकियों का समर्थन करने और उनके बचाव में खड़े रहने वाले पाकिस्तान ने अंतराष्ट्रीय मंच एक बार फिर से दुरुपयोग किया है, उसका कहना है कि, इन संगठनों के कारण ही जवाबी हिंसा को बढ़ावा मिलेगा। UNSC में पाकिस्तानी राजदूत ने कहा है कि, चरमपंथी आतंकवाद और हिंसक नस्लवादी जरूर जवाबी हिंसा को बढ़ावा ही देंगे और अल-कायदा और आईएसआईएस जैसे आतंकी संगठनों की मनहूस कथा को मान्य करेंगे। उनका कहना है कि, भारत में मुस्लिम आबादी को हिंदुत्व की विचारधारा से डराया जा रहा है।

आतंकियों पर कोई कार्रवाई न करने की वजह से एफएटीएफ ने पाकिस्तान को निगरानी सूची (ग्रे लिस्ट) रखा हुआ है। वहीं पाकिस्तान ने राष्ट्रवादी संगठन को हिंसक बताते हुए उसकी फंडिंग पर रोक लगाने की मांग कर दी थी। पाकिस्तान ने RSS को 1267 प्रतिबंध समिति के दायरे में लाने की मांग की। अक्सर कश्मीर मुद्दे को भुनाने की कोशिश करने वाले पाकिस्तान ने अब नया दांव चल दिया है। पाकिस्तान इस वक़्त बेहद ज्यादा दबाव में है। देश में जहां महंगाई बढ़ती जा रही है, वहीं आतंकियों को पाकिस्तान सामाजिक कार्यकर्त्ता बता रहा है। जिससे उसकी छवि में सुधार हो सके।

इसे भी पढ़ें: ममता सरकार के मंत्री ने नेशनल हाईवे को किया बंद, वैक्सीन ले जा रहे वाहन को किया गया डायवर्ट