कोरोना संकट: उत्तर प्रदेश में दो दिनों के लिए लॉकडाउन को बढ़ाया गया, सीएम ने अधिकारियों को दिए ये निर्देश

484

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते हुए मामलों के बीच योगी सरकार ने लॉकडाउन को 2 दिन और बढ़ा दिया है। प्रदेश में 6 मई सुबह 7 बजे तक लॉकडाउन लागू रहेगा। प्रदेश में कोरोना की बेकाबू लहर को रोकने के लिए लॉकडाउन को बढ़ाया गया है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में संक्रमण के 30 हजार 857 मामले बढ़े हैं जबकि 288 संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। राज्य में संक्रमण के 2 लाख 95 हजार 752 केस एक्टिव है। राजधानी लखनऊ में पिछले 24 घंटे में 3,438 मामले सामने आए हैं, जबकि कानपुर में 1,314, प्रयागराज 970, वाराणसी 1,610 मेरठ में 1,038 और नोएडा में 1,585 मामले बढ़े हैं।

इसे भी पढ़ें:- अगर आपको भी बढ़ानी है इम्यूनिटी तो जरूर करें इस जूस का सेवन, इन गंभीर बीमारियों में भी पहुंचाएगा लाभ

संक्रमण के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को टीम -9 की बैठक की थी, जिसमे कोरोना से सम्बंधित जरुरी दिशा निर्देश जारी किये गए थे। सीएम ने फील्ड में मौजूद सभी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वो पूरी तरह से सक्रिय रहें। और हर कॉल का जवाब दें। सूबे के सभी डीएम, सीएमओ जनप्रतिनिधि और जनता से सीधे संपर्क में रहें।

कोरोना संक्रमण के ग्राफ को नीचे आता न देख सीएम ने प्रदेश में अंतरराज्यीय बस सेवाओं पर रोक लगाने का भी आदेश दे दिया है। वहीं वायु सेवा से आ रहे यात्रियों को कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट साथ में लाना अनिवार्य कर दिया गया है। कोरोना संक्रमण शहर से होते हुए गांव जा पंहुचा है, जिसे लेकर सीएम ने कहा कि बाहर से गांव में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की कोरोना की जांच कराई जाये। वहीं उसे कोरोना प्रोटोकॉल के अनुसार क्वारंटीन किया जाए।

सीएम ने निर्देश दिए हैं कि राज्य में गांव-गांव में 4 से 9 मई के बीच कोरोना के लक्षण वाले लोगों की पहचान की जाये। उन्हें जरुरी दवा उपलब्ध कराई जाये। वहीं ट्रैन से जो यात्री आ रहे हैं उनका तापमान चेक किया जाये। अगर उनमे कोरोना के लक्षण लगते हैं तो उनकी एंटीजन जांच हो। इस काम में लापरवाही बरतने वाले अधिकारी बक्शे नहीं जायेंगे।

इसे भी पढ़ें:- कोरोना संकट के बीच वैक्सीन की कमी से बढ़ी सरकार की चिंता, अदार पूनावाला ने कोविशील्ड को लेकर किया खुलासा