इफ्को प्लांट में गैस रिसाव होने से दो अफसरों की मौत, 20 से अधिक कर्मचारी बीमार, सीएम योगी ने व्यक्त किया दुःख

217

प्रयागराज। प्रदेश के प्रयागराज जनपद में उस समय अफरातफरी का माहौल बन गया जब यहां यूरिया बनाने वाली फैक्ट्री इफ्को में अमोनिया गैस का रिसाव हो गया। इस गैस की चपेट में आने से प्लांट के दो अधिकारियों की मौत हो गई है। वहीं कई कर्मचारी बीमार पड़ गए हैं, इनमें से 14 कर्मचारियों की हालत गंभीर बताई जा रही है। सूचना मिल रही है कि कंपनी के 20 से ज्यादा कर्मचारी बीमार हैं। इन बीमार कर्मचारियों को अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती करा दिया गया है। मृतकों की पहचान असिस्टेंट मैनेजर बीपी सिंह और डिप्टी मैनेजर अभिनंदन के रूप में हुई है। जानकारी के मुताबिक गैस रिसाव का यह हादसा इफ्को प्लांट में रात 12 बजे के करीब हुआ है। हादसे के समय प्लांट में लगभग 100 कर्मचारी व कई अधिकारी मौजूद थे। बताते चलें कि इफ्को कंपनी प्रयागराज शहर से लगभग चालीस किलोमीटर दूर फूलपुर इलाके में है।

इसे भी पढ़ें: बेरहम मौसम की मार से बेहाल दिल्ली..कई इलाकों में जारी ऑरेंज अलर्ट, कुछ दिनों बाद होगी बारिश

जानकारी के अनुसार पाइप में लीकेज होने की वजह से अमोनिया गैस का रिसाव हुआ। फ़िलहाल इंजीनियर्स की टीम ने इस रिसाव को रोक दिया है। प्लांट के अधिकारियों ने दावा किया है कि अब यहाँ सब सामान्य है। प्लांट के करीब घनी आबादी होने की वजह से बड़े हादसे का डर था। हादसे के बाद आननफानन में पूरे प्लांट को खाली करा लिया गया था। वहीँ इफ्को प्रशासन मामले की जांच कराएगा। जाँच में अगर किसी की लापरवाही मिलती है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। सूचना मिलने पर पुलिस और प्रशासन के बड़े अफसर भी मौके पर पहुंच गए हैं।

इफ्को प्लांट में गैस लीकेज की घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से कहा गया है कि इस मामले में जांच के आदेश दे दिए गए हैं। ज्ञात हो कि यहाँ गैस लीकेज की घटना पहली बार नहीं हुई है। पिछले दो वर्षों में पांच बार इस प्लांट में गैस लीकेज की घटना हो घट चुकी है। प्लांट में बार-बार हो रहे लीकेज से लोगों में आशंकाओं का माहौल बनता जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: हिंसक हुए प्रदर्शनकारी किसान, एसएसपी की गाड़ी में की तोड़फोड़, भाग कर बचाई जान