योगेंद्र यादव ने रची थी दिल्ली हिंसा की साजिश, कांग्रेस सांसद ने लगाए कई गंभीर आरोप

473

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन दिल्ली की सीमाओं पर पिछले करीब ढाई से जारी है। वहीं संसद के अंदर विपक्ष भी लगातार सरकार पर कानून वापस लेने के लिए दबाव बना रहा है। वहीं 26 जनवरी को दिल्ली में हुए उपद्रव को लेकर लुधियाना से कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि, गणतंत्र दिवस के दिन राजधानी में ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा के पीछे योगेंद्र यादव की साजिश है।

इसे भी पढ़ें: सलमान को हो सकती है सात साल की सजा! इस मामले में दिया था झूठा हलफनामा

कांग्रेस सांसद ने कहा है कि, अगर योगेंद्र यादव को पुलिस द्वारा पकड़ लिया जाए तो किसान और सरकार बीच चल रहा तनाव खत्म हो सकता है और आज बातचीत से समस्या का समाधान हो सकता है। किसानों और सरकार के बीच आग लगाने वाला व्यक्ति योगेंद्र यादव ही है। सांसद रवनीत सिंह बिट्टू का ये भी कहना है कि, खालिस्तानी संगठन किसान आंदोलन के लिए फंडिंग कर रहा है। किसान तो अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे थे, लेकिन योगेंद्र यादव ने इससे अपना एजेंडा सीधा कर रहे हैं।

सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन को अपना समर्थन देने कांग्रेस सांसद रवनीत सिंह बिट्टू पिछले दिनों पहुंचे थे लेकिन, उन्हें वहां भारी विरोध का सामना करना पड़ा। इस बीच इस बात की भी खबर सामने आई थी कि, उन पर वहां हमला भी हुआ था। हालांकि इस मामले की अब तक पुष्टि नहीं हुई है। कांग्रेस सांसद ने कृषि कानूनों को लेकर चल रहे आंदोलन को लेकर कहा है कि, आप खालिस्तान के नारे लगाओ लेकिन, हम भागने वाले नहीं है।

हमने पहले भी शहादत दी है। एक प्लानिंग तहत हम पर हमला हुआ है और मारने की साजिश थी। हमारी पगड़ी पर हमला हुआ, लाठी चलाई गई। हम वापस जाने वाले नहीं हैं। इनसे तो सरकार और एजेंसी निपट लेंगी।

इसे भी पढ़ें: 15 दिन से गच्चा रहे सिद्धू पर पुलिस ने इन धाराओं में दर्ज किया केस, जानें कैसे आया गिरफ्त में