राहुल गांधी ने कहा- दादी और पिता की हत्या पर है गर्व क्योंकि…

299

नई दिल्ली। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा है कि, उनके लिए ये गर्व की बात है कि, उनके पिता और दादी की हत्या की गई। ऐसा इसलिए हुए क्योंकि वो किसी चीज के लिए स्टैंड लिया था। इसके अलावा राहुल ने कहा कि, उन्हें खुद में सुधार लाने में ट्रोल ने से मदद मिली। शिकागो यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर दीपेश चक्रवर्ती के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान राहुल गांधी ने ये बातें कीं। राहुल ने वंशवाद के सवाल पर जवाब दिया कि, पिछले करीब 35 वर्ष उनके परिवार का कोई भी सदस्य पीएम नहीं बना है।

इसे भी पढ़ें: जैश के निशाने पर अजीत डोभाल, आतंकी ने NSA ऑफिस की रेकी, अलर्ट हुई एजेंसियां

राहुल ने बातचीत के दौरान कहा कि, मुझे इस बात का गर्व है कि, मेरी दादी (इंदिरा गांधी) और पिता (राजीव गांधी) ने किसी चीज के खिलाफ एक स्टैंड लिया और उसका बचाव करते हुए ही उनकी हत्या हुई। ये मुझे और मेरे स्थान को समझने के मदद करता है। इससे मुझे पता चलता है कि, मुझे क्या करना चाहिए और मुझे इसका कोई पछतावा नहीं है।कांग्रेस सांसद ने वंशवाद की राजनीति के सवाल पर कहा कि, 30 से 35 वर्ष पहले गांधी परिवार का पीएम बना था।

इसके बाद बनी सरकार में मेरे परिवार का कोई भी सदस्य शामिल नहीं था। मैं कुछ मूल्यों की लड़ाई लड़ता हूं, आप ये नहीं बोल सकते है कि, मैं पूर्व पीएम राजीव गांधी का बेटा हूं तो मैं इन मूल्यों के लिए नहीं लड़ सकता। अपनी अब तक के राजनीतिक सफर को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि, इस सफर में अब मैं काफी आगे बढ़ चुका हूं।

मेरे विचार काफी ज्यादा साफ़ हॉ चुके हैं। यही सवाल अगर आप 20 साल पहले करते कि, आप क्यों राजनीति में आना चाहते हैं तो मेरा जवाब आज के कुछ अलग होता। जैसे-जैसे मैं इस रास्ते पर आगे बढ़ रहा हूं तो समझ आ रहा है कि, ये विचारों की लड़ाई है।

इसे भी पढ़ें: आगरा एक्सप्रेस वे पर खड़े ट्रक में घुसी कार, एक ही परिवार के छह लोगों की मौत