BJP नेता से मारपीट मामले में CM योगी ने उठाया सख्त कदम, SO सस्पेंड, ASP का ट्रांसफर

1179
cm yogi action on aligarh

बुधवार को अलीगढ़ में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता से मारपीट करना थानाध्यक्ष को भारी पड़ गया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त कार्रवाई करते हुए थानाध्यक्ष (SO) को निलंबित कर दिया, साथ ही एएसपी (ASP) का भी ट्रांसफर कर दिया गया। सीएम योगी ने आईजी (IG) से गुरुवार तक रिपोर्ट पेश करने का भी आदेश दिया है। सीएम योगी ने इस बात की जानकारी अपने ट्विटर हैंडल पर दिया। उन्होंने ट्वीट कर जानकारी दी कि जनपद अलीगढ़ में माननीय विधायक के साथ हुई घटना के संबंध में उत्तर प्रदेश के डीजीपी (DGP) को प्रभावी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़े- योगी आदित्‍यनाथ बने देश के सबसे लोकप्रिय मुख्यमंत्री, जनता का बढ़ा विश्वास

साथ ही सीएम योगी के ट्वीट के मुताबिक, संबंधित थानाध्यक्ष को सस्पेंड कर दिया गया है। एएसपी ग्रामीण का स्थानांतरण किया जा रहा है। आईजी अलीगढ़ को इस संबंध में कल तक रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ ज़िले में सत्तारूढ़ बीजेपी के एक विधायक ने आरोप लगाया है कि अपनी विधानसभा क्षेत्र के तहत आने वाले एक थाने में पुलिस ने जमकर पीटा और फिर कपड़े फाड़ दिए गए।

वहीं एसओ ने विधायक पर आरोप लगाया है कि विधायक थाने में आकर गाली गलौज कर रहे थें। जब विरोध किया गया तो उन्होंने हाथ उठा दिया। इस बात की जानकारी अलीगढ़ सांसद और कई विधायकों को पहुंची तो सभी पुलिस स्टेशन पहुंचे और थानाध्यक्ष पर नाराजगी जाहिर की और इसकी सूचना सीएम को दी गई जिसके बाद इस पर कार्रवाई शुरू हुई।

क्या है मामला
दरअसल, गोंडा में दो समुदायों के बीच झड़प हुई थी। इसी संबंध में पुलिस ने दोनों पक्षों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की थी। इग्लास विधायक राजकुमार को पता चलते ही वह गोंडा पहुंचे और पैरवी लगाने लगे। इसी बीच क्रॉस एफआईआर क्यों और किसके कहने पर दर्ज हुई, के मुद्दे पर विधायक और थानेदार अनुज सैनी के बीच तीखी झड़प हो गई। विधायक का आरोप है कि पहले एसओ ने हमला किया तो वहीं एसओ का आरोप है कि पहले विधायक ने हाथ छोड़ा जिसके बाद सारी गर्मा गरमी हुई।

यह भी पढ़े– कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान अपने दोस्त देशों को भी बना रहा दुश्मन, सऊदी अरब से बढ़ी रार