10 चीनी जासूस गिरफ्तार, चला रहे थे आतंकी सेल, काबुल ने दिल्ली को दी जानकारी

91

नई दिल्ली। चीन का एक और चेहरा दुनिया के सामने बेनकाब हुआ है। चीन के दस जासूस अफगानिस्तान की राजधानी काबुल से गिरफ्तार हुए हैं, जिन्होंने पूछताछ में जो खुलासा किया है, उससे दुनिया में सनसनी फैल गई है। अफगानिस्तान में एक चीनी मॉड्यूल खुलासा हुआ है, जो एक आतंकी सेल को चला रहा था। इसकी जानकारी पश्चिम एशियाई देश में राजनयिकों और सुरक्षा अधिकारियों ने दी है। चीन की इस हरकत से पता चलता है कि, दुनिया में अब चीन आतंकी घटनाओं को अंजाम देने की फ़िराक में है। मामले का खुलासा होने के बाद चीन को अब पूरी दुनिया के सामने शर्मिंदा होना पड़ रहा है। काबुल से मामले की पूरी जानकारी दिल्ली को दी गई है।

इसे भी पढ़ें: किसानों से धोखा करने वालों को सीएम योगी ने चेताया, कहा- धोखेबाजी की तो जेल होगा ठिकाना

अफगानिस्तान में चीनी मॉड्यूल का खुलासे के बाद अब अशरफ गनी सरकार को चीन मनाने में लगा हुआ है। चीन की यही कोशिश है कि, मामले को यही दबा दिया जाए। अफगानिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय ने पिछले दिनों चीन के 10 नागरिकों को गिरफ्तार किया है। यह सभी चीन के लिए जासूसी करते है और आतंकी सेल को चला रहे थे। रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि, ये सभी जासूस चीन की जासूसी एजेंसी राज्य सुरक्षा मंत्रालय से जुड़े हुए हैं।

अफगानिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय ने ये बड़ी कार्रवाई 10 दिसंबर को की थी। ऐसा पहली बार हो रहा है कि, चीन के जासूस अफगानिस्तान में गिरफ्तार किये गए हैं। खबरों के अनुसार, अमेरिका के सैनिक लगातार अफगानिस्तान से जा रहे हैं, जिसे देखते हुए अब चीन अपनी दखल और प्रभाव देश में बनने की कोशिशों में लगा हुआ है। काबुल के एक वरिष्ठ राजनयिक का कहना है कि, चीनी जासूस अफगानिस्तान के दो आतंकी संगठन हक्कानी नेटवर्क के सम्पर्क में थे। जो कि एक तालिबानी संगठन है।

इसे भी पढ़ें: यूपी पुलिस का शर्मनाक चेहरा, सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता से दरोगा ने किया रेप