Budget 2021: कोरोना संकट ने खोली सरकार की आंखे, हेल्थ सेक्टर पर किया गया फोकस, 64 हज़ार करोड़ की योजना का किया ऐलान

33

नई दिल्ली। कोरोना संकट ने केंद्र सरकार को देश के स्वास्थ्य ढ़ाँचे में बड़ा सुधार करने के लिए मजबूर कर दिया था। कोरोना एक ऐसी महामारी जिसने पूरे विश्व को अपनी चपेट में लिया। भारत में संसाधनों की कमी जरूर थी, लेकिन डॉक्टर्स और सरकार ने मिलकर इस आपदा पर नियंत्रण पा ही लिया। इसके बाद अब सरकार देश की स्वास्थ्य में बड़ा बदलाव करने की तैयारी में है। बजट 2021 में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने हेल्थ सेक्टर को लेकर बड़ी घोषणा की है।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली की तरफ बढ़े किसान, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर किसानों ने लगाई बैरिकेडिंग

बजट 2021 में वित्त मंत्री ने ‘पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत’ योजना की घोषणा की है। निर्मला निर्मला सीतारमण ने इस योजना के लिए 64,180 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। इस राशि को आगामी छह वर्षों में खर्च करने की योजना है। वहीं सरकार का फोकस अब प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को मजबूत करने पर होगा। भारत में सरकार की तरफ से विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के स्थानीय मिशन को लॉन्च किया जाएगा।

बजट के दौरान वित्त मंत्री ने इस बात की जानकारी दी कि, 137 प्रतिशत तक स्वास्थ्य क्षेत्र के बजट को बढ़ाया गया है।वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि, स्वास्थ्य सेवा को ग्रामीण क्षेत्रों में बेहतर करने के लिए प्राइमरी से लेकर उच्च स्तर तक की सेवाओं पर बजट राशि खर्च की जाएगी। पांच हज़ार ग्रामीण हेल्थ सेंटर, क्रिटिकल केयर हॉस्पिटल ब्लॉक 602 जिलों में, नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के आलावा इंटिग्रेडेट हेल्थ इनफो पोर्टल को भी पहले मजबूत बनाया जायेगा।

नई बिमारियों और उनके बेहतर इलाज पर भी फोकस होगा। स्वच्छ भारत मिशन को भी आगे बढ़ाने की घोषणा वित्त मंत्री ने की है। इसके तहत शहरों में अमृत योजना को और आगे बढ़ाया जायेगा। बजट में इस कार्य के लिए 2 लाख 87 हज़ार करोड़ रुपए जारी किया गया है।

इसे भी पढ़ें: Budget 2021: भाषण के दौरान वित्त मंत्री ने रेलवे को दी 1.10 लाख करोड़ की सौगात