कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद 8 महिला सिपाहियों की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में भर्ती

151

अयोध्या में राम जन्मभूमि पर चेकिंग पॉइंट में तैनात 8 महिला पुलिस सिपाहियों की तबीयत एक साथ बिगड़ गई है। शुक्रवार को इन सभी को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज दिया गया था, जिसके बाद इन्हे आज चक्कर आ रहे थे और बेचैनी की शिकायत थी। इसकी जानकारी होने के बाद इन सभी को श्रीराम अस्पताल में भर्ती कराया गया है। राम जन्मभूमि के तीन चेकिंग बूथों पर ये सभी महिला सिपाही तैनात थीं। एक साथ जब कई पुलिसकर्मियों की तबीयत ख़राब हुई तो हड़कंप मच गया। उन सभी को जब हॉस्पिटल लेकर गए तो डॉक्टरों को कहा कि, घबराने की बात की नहीं है।

इसे भी पढ़ें: ममता के खिलाफ नड्डा ने बंगाल में भरी हुंकार, पूछा-जय श्री राम के नारे से क्यों आता है दीदी को गुस्सा

वैक्सीन लगने के बाद ऐसा होना सामान्य लक्षण हैं। डॉक्टर्स ने कहा कि, कोरोना वैक्सीन लगने के बाद इस तरह के परेशानियां हो सकती है। जिन महिला पुलिस कर्मियों की तबियत बिगड़ी थी फिलहाल उनका ब्लड प्रेशर अब सामान्य है और वो पहले से बेहतर महसूस कर रही हैं। गौरतलब है कि, राज्य में शुक्रवार को 84,109 फ्रंटलाइन वर्कर और स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना वैक्सीन का पहला डोज दिया गया था। अब तक प्रदेश में कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण के पहले चरण में 71,3,530 लोगों को पहला डोज दिया जा चुका है।

फ्रंटलाइन वर्कर्स को 11 फरवरी से टीकाकरण का दूसरा फेज शुरू होगा। इस बीच उत्तर प्रदेश वैक्सीन का पहला चरण पूरा होने से बाद से ही 1,800 से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मी लापता हो गए हैं। टीकाकरण शुरू होने से पहले 26,292 कर्मचारियो का डाटा स्वास्थ्य विभाग ने शासन को भेजा था, लेकिन इनमे से अब तक 24,289 स्वास्थ्यकर्मी का ही पता चला है। अब इस बात की आशंका जताई जा रही है कि, विभाग द्वारा कहीं न कहीं स्वास्थ्यकर्मियों डाटा बनाने में बड़ी चूक हुई है।

इसे भी पढ़ें: राकेश टिकैत ने सरकार को दिया आखिरी अल्टीमेटम, बोले-किसी दबाव में नहीं होगी इस मुद्दे पर चर्चा