बीजेपी कार्यकर्ताओं और किसानों के बीच हुई झड़प, कई घायल, मौके पर पहुंची पुलिस

269

लखनऊ। कृषि कानूनों के खिलाफ लगातार किसानों का आंदोलन पिछले 89 दिनों से जारी। इस बीच उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में बीजेपी कार्यकर्ताओं और किसानों के बीच मारपीट होने की खबर सामने आ रही है। किसानों और कार्यकर्ताओं के बीच पहले बहस शुरू हुई, जो देखते-देखते इतनी बढ़ गयी कि, दोनों पक्षों के बीच हाथापाई शुरू हो गई। इस घटना में कुछ लोग घायल बताए जा रहे हैं। RLD नेता जयंत चौधरी ने इस घटना को लेकर ट्वीट किया है।

इसे भी पढ़ें: होटल के कमरे में मृत पाए गए सांसद मोहन डेलकर, जांच में जुटी पुलिस

मुजफ्फरनगर शाहपुर थाना क्षेत्र के सोरम गांव में हुए बवाल को लेकर जयंत चौधरी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि, सोरम गांव में बीजेपी नेताओं और किसानों के बीच संघर्ष हुआ। जिसमे कई लोग घायल हुए हैं। किसान के पक्ष में बात नहीं होती तो कम से कम, व्यवहार तो अच्छा रखो। किसान की इज्जत तो करो। इब कानूनों के फायदे बताने जा रहे सरकार के नुमाइंदों की गुंडागर्दी बर्दाश्त करेंगे गांववाले?

 

RLD नेता ने कुछ किसानों की तस्वीरें भी शेयर की हैं, जिसमे लोग घायल दिख रहे हैं। वहीं खबर आ रही है कि, घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है और दोनों पक्षों से बातचीत कर मामले की जांच शुरू कर चुकी है। गौरतलब है कि, कृषि कानूनों के विरोध में लगातार किसानों का प्रदर्शन जारी है और अब बीजेपी नेताओ और कार्यकर्ताओं को किसानों का विरोध झेलना पड़ रहा है।

बीते रविवार को नए कृषि कानूनों का लाभ बताने पहुंचे केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान को भारी विरोध का सामना करना पड़ा था। शामली के भैंसवाल पहुंचे केंद्रीय नेता के खिलाफ जमकर नारेबाजी हुई थी। मंत्री के काफिले को ग्रामीणों ने रोकने के लिए रास्ते में ट्रैक्टर लगा दिए थे। इस पर केंद्रीय मंत्री ने कहा था कि, दस लोगों के विरोध करने से और मुर्दाबाद के नारे लगाने से मैं मुर्दाबाद नहीं हो जाऊंगा। इसके बाद मंत्री का काफिला गांव से वापस लौट गया था।

इसे भी पढ़ें: बजट: योगी सरकार ने इंफ्रास्ट्रक्चर पर दिया जोर, किसानों की नाराजगी दूर करने की कोशिश